खुलासा – अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम ने रची थी आरएसएस नेताओं सहित भारत में दंगे भड़काने की मोदी सरकार के खिलाफ रची थी शाजिश

0
853

दिल्ली- राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने खुलासा किया है कि पाकिस्तान में छिप कर बैठे अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहीम ने मोदी सरकार के विरुद्ध भारत में दंगे भड़काने और आरएसएस सहित अन्य धार्मिक नेताओं को मारने की साजिश रची थी | दाउद आरएसएस के नेताओं को मारकर देश में दंगे भड़काना चाहता था जिसका सारा आरोप मोदी सरकार के ऊपर आता | राष्ट्रीय जांच एजेंसी NIA ने दावा किया है कि दाउद भारत में मोदी सरकार को अस्थिर करना चाहता था | सरकार को अस्थिर करने के लिए दाउद ने प्लान बनाया था कि भारत में साम्प्रदायिक दंगे भड़काएं जाएँ |

दाउद के शार्प शूटर्स ने किया खुलासा –
अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहीम के लिए काम कर रहे उसके गुर्गों ने पूछताछ में इस बात का खुलासा किया है | दाउद के गुर्गों ने बताया कि दाउद ने अपने 10 बेहद खतरनाक शार्प शूटर्स को इस काम की सुपारी दी थी | NIA ने दाउद के 10-10 शार्प शूटर्स के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है |

डी कंपनी के शूटर्स ने इसी शाजिश के तहत 2 नवंबर 2015 को गुजरात में दो दक्षिणपंथी नेताओं शिरीष बंगाली और प्रग्नेश मिस्त्री की हत्या की थी। इस मामले में पुलिस के हत्थे चढ़े शूटर्स का दावा था कि इन हत्याओं को उन्होंने 1993 मुंबई ब्लास्ट के आरोपी याकूब मेमन की फांसी के बदले किया था |

देश के अन्य धार्मिक नेताओं सहित आरएसएस के नेताओं की हिटलिस्ट तैयार की थी दाउद ने –
NIA ने जांच में दावा किया है कि डी कंपनी के ही दो सदस्यों जावेद चिकना और अफ़्रीकी मुल्क के जाहिद मियां उर्फ़ जाओ इस पूरी प्लानिंग के मास्टर माइंड थे | उनकी योजना थी कि वे देश के अन्य धर्म के धार्मिक नेताओं और आरएसएस के बड़े नेताओं को मारकर देश में दंगे भड़काते जिस से मोदी सरकार कमजोर पड़ जाती | लेकिन जब तक ये सब कुछ संभव होता उससे पहले ही NIA ने दाउद के इन सभी गुर्गों को धर लिया और पूरी की पूरी प्लानिंग ध्वस्त कर दी |

दाउद की डी कंपनी ने आरएसएस के नेताओं सहित भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को मारने के लिए एक हिट लिस्ट भी तैयार की थी | हालाँकि अभी तक इस बात का खुलासा नहीं हो सका है कि उस हिटलिस्ट में किन-किन नेताओं के नाम थे | मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि जिन 10 लोगों को यह काम सौंपा गया था उनमें से 7 सदस्य हाजी पटेल, मोहम्मद यूनुस शेख, अब्दुल सामद, आबिद पटेल, मोहम्मद अल्ताफ, मोहसिन खान और निसान अहमद पिछले साल पकड़े गए हैं | बताया जाता है कि आबिद पटेल और चिकना भाई हैं और पटेल को मिस्त्री और बंगाली को मारने के लिए 50 लाख रुपये मिले थे |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here