दहेजलोभियों ने ली विवाहिता की जान, पुलिस ने नहीं दर्ज किया एफआईआर

0
50

बलिया (ब्यूरो)- दहेज में बाइक न मिलने से नाराज दहेजलोभी ससुरालवालों ने नवविवाहिता रुबिना (22) ग्राम कांधपुर थाना भीमपुरा की जमकर पिटाई कर दी और गंभीर हालत में बिल्थरारोड क्षेत्र में लावारिश छोड़ निकल भागे। जिसकी घटना के करीब 9वें दिन वाराणसी अस्पताल में इलाज के दौरान सोमवार की रात मौत हो गई।

मंगलवार को परिजनों ने भीमपुरा पुलिस को तहरीर दिया किंतु पुलिस ने मामला जनपद के मनियर थाना क्षेत्र का बताकर अपना पल्ला झाड़ लिया। पुलिस ने शव को पंचनामा के बाद पोस्टमार्टम हेतु जिला अस्पताल भेज दिया और भीमपुरा थाने से एक एसआई संग पीड़ित परिवार मंगलवार को मुकदमा दर्ज कराने हेतु मनियर के लिए गए। जहां दोपहर बाद आरोपी पति समेत आठ पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया।

बता दें कि भीमपुरा थाना के कांधपुर गांव निवासी स्व. अलाउद्दीन की पुत्री रूबीना खातून (22) का निकाह मनियर थाना क्षेत्र के पटखौली (तकिया) निवासी मो. इस्तखार के साथ 17 मई 2017 को मुस्लिम रीति रिवाज के साथ हुआ था। जिसके बाद से ही पति समेत ससुराल पक्ष दहेज में बाइक न मिलने की खिझ विवाहिता पर निकालने लगे। जिससे बढ़ते अनबन के कारण रूबीना जल्द ही मायके आ गई किंतु लोगों के पंचायत के बाद 7 अप्रैल 2018 को फिर उसके पति इस्तखार के साथ रुबिना को विदा कर दिया गया किंतु विदाई के अगले दिन 8 अप्रैल की ही रात विवाहिता रूबीना को संदिग्ध हालत में ससुरालववाले बिल्थरारोड रेलवे ढाले के समीप छोड़कर भाग निकले।

इसकी जानकारी मिलने पर लड़की के भाई एकराम तत्काल पीड़िता संग मनियर थाने पहुंचा किंतु पीड़िता की तहरीर लेने से पुलिस द्वारा इंकार किए जाने के बाद परिजन तत्काल इलाज हेतु मऊ चले गए। जहां से चिकित्सकों द्वारा रेफर किए जाने के बाद वाराणसी में रुबिना का इलाज करा रहे थे। इस बीच सोमवार की देर रात रुबिना की मौत हो गई। आधी रात के बाद शव लेकर घर पहुंचे परिजनों ने घटना की सूचना पुलिस प्रशासन को दी। जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने शव को अंत्यपरीक्षण हेतु बलिया भेजा। मौके पर पहुंचे तहसीलदार यशवंत राव व उभांव इंस्पेक्टर जगदीश विश्वकर्मा ने सख्त कार्रवाई का भरोसा दिलाया।

रिपोर्ट- अजीत ओझा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here