दाल मिल में संचालित हो रहा विवाह घर

0
134

कोंच(जालौन)– इसे उद्योग विभाग की कार्यप्रणाली कहें या फिर उनके अधिकारियों की उद्योग के प्रति उदासीन प्रवृति की औद्योगिक क्षेत्र में उद्योग की बजाय विवाह घर संचालित हो रहा है। नगर स्थित औद्योगिक क्षेत्र में सारे नियमों को ताक पर रखकर उद्योग विभाग के अधिकारी विवाह घर चलवाकर अपने कर्तव्य के प्रति बेईमान बने हुए हैं। लगभग 20 वर्ष पूर्व दाल मील के नाम पर आवंटित प्लाट में कहने को चंद महीने ही दाल मील चली उसके बाद यहां यशोदा धाम का लेबिल लगाकर शादी विवाह संचालित कराये जाने लगे। हालांकि कई बार लोगों द्वारा विवाह घर की शिकायतें की गयीं परंतु हर बार विभागीय अधिकारी क्षेत्रीय लोगों की शिकायत को नजरअंदाज करते रहे।

औद्योगिक क्षेत्र में नियम तो यह है कि जो जमीन उद्योग धंधा लगाने के लिए उद्यमी को हो जाती है वह उसमें वही उद्योग लगा सकता है जिसे उसने आवंटित कराया हो। उद्योग के अलावा वहां कोई अन्य कार्य संचालित करने की छूट किसी भी हालत में नहीं दी जा सकती। उद्योग विभाग के सारे अधिकारी कर्मचारी विभाग के दिशा निर्देशों को बखूबी जानते हैं परंतु फिर भी वह इस अनैतिक कार्य को बढ़ावा वर्षों से देते चले आ रहे हैं।

आरोप तो यह भी लग रहे हैं कि विभाग के अधिकारी इस अनैतिक कार्य में बराबर के साझेदार हैं। यही कारण है कि उन्होंने अब तक कोई कारगर कदम नहीं उठाया। विवाह घर के चलने से औद्योगिक क्षेत्र की शांतिभंग तो हो ही रही है साथ ही मजदूरों के साथ अन्याय भी हो रहा है। ऊपर से दोना-पत्तलों की गंदगी भी औद्योगिक क्षेत्र में कचरा बढ़ा रहा है| औद्योगिक क्षेत्र में विवाह घर चलने की रिपोर्ट मुख्यालय कई बार भेजी जा चुकी है। नियमानुसार कोई दूसरा काम औद्योगिक क्षेत्र में नहीं किया जा सकता है। जहां विवाह घर चल रहा है वह स्थान दाल मिल चलाने के लिए दिया गया है।

रिपोर्ट- ऋषि झा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here