डलमऊ बने पर्यटन नगरी : अजय अग्रवाल

0
30

डलमऊ/रायबरेली (ब्यूरो)- सुप्रीम कोर्ट अधिवक्ता व वरिष्ठ भाजपा नेता अजय अग्रवाल ने आज केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री डा. महेश शर्मा से उनके नई दिल्ली स्थित कार्यालय में मिलकर डलमऊ में एक विशाल अतिथि गृह जल्द बनाये जाने की पुनः मांग की, तथा उनको जल्द से जल्द डलमऊ का दौरा करने के लिए आमंत्रित किया।

साथ ही साथ रायबरेली के अमावां स्थित सिद्ध एवं प्राचीन झारखंडेश्वर मंदिर का भी जीर्णोद्वार किये जाने की मांग की। उन्होंने झारखंडेश्वर मंदिर के बारे में बताया कि इस मन्दिर में वर्ष भर लाखों की संख्या में श्रद्धालु आतें हैं। भाजपा नेता अजय अग्रवाल ने केन्द्रीय मंत्री को बताया डलमऊ एक प्राचीन एवं एतिहासिक स्थल है, एवं इसके साथ अनेकों प्राचीन किवदंतियाँ जुडी हुई है। यह एक धार्मिक नगरी के रूप में देश भर में विख्यात है, तथा इसकी अपनी एक धार्मिक मान्यता है। यहाँ पर कार्तिक पूर्णिमा पर विशाल मेला लगता है जहाँ दूर-दूर से लगभग 25 लाख श्रद्धालु आकर गंगा स्नान करते है। इसके आलावा प्रत्येक माह की पूर्णिमा पर भी लगभग पांच से दस लाख लोग आकर गंगा में डुबकी लगाते हैं।

प्रतिदिन भी लगभग हजारों लोग आते है और यहाँ के धार्मिक घाट पर स्नान कर पुण्य कमाते हैं। अजय अग्रवाल ने केन्द्रीय मंत्री को बताया कि डलमऊ को वाराणसी के तर्ज पर पर्यटन नगरी के रूप में विकसित किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि वाराणसी की तरह ही डलमऊ में भी प्रतिदिन गंगा आरती को होते हुए डेढ़ वर्ष से अधिक समय हो गया है। जो कि रोजाना शाम छह होती है। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री को बताया कि लखनऊ तथा अन्य सुदूर क्षेत्रों से भी अनेकों श्रद्धालु गंगा आरती में हिस्सा लेने आना चाहते हैं और डलमऊ घाट पर गंगा स्नान कर पुण्य कमाना चाहते है परन्तु यहाँ पर रुकने की ठीक व्यवस्था न होने के कारण दूर दूर से आने वाले श्रद्धालुओं को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

भाजपा नेता अजय अग्रवाल ने केन्द्रीय मंत्री को बताया कि जो 83 करोड़ की योजना केन्द्रीय जल संसाधन विकास मंत्रालय को डलमऊ के विकास व सौंदर्यीकरण के लिए भेजी गयी है उसमे वहां पर समुचित प्रकाश व्यवस्था, सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण, घाटों का पुनर्निर्माण एवं सौंदर्यीकरण, जगह-जगह जन सुविधाओं एवं शौचालयों का निर्माण, चेंजिंग रूम आदि का निर्माण होना है। इसलिए यहाँ श्रद्धालुओं के रुकने के लिए एक विशाल यात्री विश्राम गृह होने की परम आवश्यकता है। जिसको केन्द्रीय पर्यटन मंत्रालय द्वारा बनाया जाना चाहिए।

इस सम्बन्ध में अजय अग्रवाल ने केन्द्रीय मंत्री को एक पत्र भी सौंपा। उन्होंने इस सम्बन्ध में केन्द्रीय को याद दिलाते हुए कहा कि वह पिछले वर्ष में भी उनसे मिलकर वह उक्त सब वर्णन कर चुके हैं और इस बाबत पहले भी पत्र दिया था जिसके उत्तर में उनके निजी सचिव का 20 अक्टूबर का पत्र प्राप्त हुआ था, जिसमें उन्होंने उसे सचिव पर्यटन को भेजने का कहा था। भाजपा नेता अजय अग्रवाल ने बताया कि उक्त दोनों मामलों में केन्द्रीय पर्यटन व संस्ति मंत्री ड. महेश शर्मा ने केन्द्रीय सचिव को जल्द प्रस्ताव भेजने का स्वयं लिखित आदेश दिया।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY