डलमऊ सीएचसी का हाल, स्टाप नर्स ने पीड़िता से मांगे ग्यारह हजार

0
116

डलमऊ/रायबरेली(ब्यूरो)- प्रदेश के मुखिया स्वास्थ्य विभाग द्वारा बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए भले ही तारीफों के पुल बांध रहे हों लेकिन धरातल पर हकीकत कुछ और ही कहानी बयां कर रही है| मंगलवार को देर रात डलमऊ विकास खंड क्षेत्र के बरारा निवासी बाबा प्रसाद ने डलमऊ सीएचसी प्रभारी को एक शिकायती पत्र देते हुए सीएचसी में तैनात स्टाफ नर्स व कर्मियों पर अवैध वसूली का आरोप लगाते हुए बताया कि उसकी पत्नी शांती देवी के पेट में ही बीते तीन माह पूर्व बच्चे की मौंत हो गई थी। जिसके कारण लगातार उसके पेट में दर्द की शिकायत बनी हुई थी । मंगलवार की शायं शांति देवी के पेट में अचानक दर्द होने लगा, जिसके बाद परिजनों ने गांव में तैनात आशा बहू की सहायता से उसे आनन फानन डलमऊ सीएचसी पहुंचाया| डलमऊ सीएचसी में तैनात स्टाफ नर्स वा अन्य कर्मियों ने पीड़िता से पेट की सफाई के नाम पर 11000 रुपए जमा करने की बात कही ।

पीड़ित ने स्टाफ नर्स को तत्काल 1000 रुपए देकर शेष पैसों के इंतजाम करने की बात कही लेकिन गरीबी के कारण वह पैसे का इंतजाम नहीं कर सका। सीएचसी में तैनात तैनात स्टाफ नर्स ने पैसे नहीं जमा करने पर जिला अस्पताल रेफर कर देने की धमकी दी। स्टाफ नर्स द्वारा की जा रही अवैध वसूली की सूचना मिलते ही पीडिता के साथ आए लोग आक्रोशित हो उठे। आक्रोश बढता देख, स्टाफ नर्स ने पीड़िता द्वारा जमा किए गए पैसे वापस कर दिए और इलाज करने से भी मना कर दिया। डलमऊ सीएचसी के कार्यवाहक सीएचसी प्रभारी संजीव कुमार ने बताया कि अवैध वसूली की शिकायत मिली है । जांच कर दोषी कर्मियों पर कार्यवाही की जाएगी ।

रिपोर्ट- राहुल यादव/ सिद्धार्थ त्रिवेदी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY