क्षतिग्रस्त पुल पर धड़ल्ले से जारी है बालू लदे ट्रैक्टरों का परिचालन

0
55


धनबाद (ब्यूरो) धनबाद और बोकारो जिले को जोड़ने वाला तेलमच्चो पुल बेहाल है। पुल में एक से तीन नंबर पिलर में दरार आने के बाद जिला प्रशासन ने भरी वाहन के लिए पुल को बंद कर दिया। मगर बालू लदा ट्रेक्टर पार हो रहा है और इसे रोकने वाला कोई नहीं। जिससे कभी भी महाराष्ट्र की तरह बड़ी घटना होने की संभावना है।धनबाद चंद्रपुरा रेल लाइन बंद होने के बाद अब एक मात्र रास्ता धनबाद बोकारो जिले को जोड़ने वाली तेलमच्चो ब्रिज है जो महीनो से बड़ी वाहनों के लिए बंद है। जिससे वहां रह रहे दैनिक मजदूर भुखमरी के कगार पर आ गये है। जिला प्रशासन ने अब तक पुल की मरम्मती का कार्य नहीं करा पाई है, जिससे इस रास्ते से होकर चलने वाले लोग परेशान है।

महुदा और बाघमारा से रोजाना पांच सौ मजदूर प्रतिदिन धनबाद बोकारो मजदूरी के लिए जाते है, जो आज रूट में बसे नहीं चलने से परेशान है। वही मजदूरों का कहना है की बस और लाइन गाड़िया चलने से रोजाना 100 से 500 सौ रूपये प्रतिदिन कमा लेते थे, जो आज बंद है जिससे हमलोग भुखमरी के कागार पर आ गये है। जिला प्रशासन जल्द बड़ी गाड़ियों के लिए रूट चालू करे।वही एक और स्थानीय लोगों का कहना है जिला प्रशासन भरी वाहनों के लिए रोड को बंद कर दी है मगर जिला प्रशासन की मिली भगत से बालू लदा ट्रेक्टर पार हो रही है इसे रोकने वाला कोई नहीं है अगर बरसात से पहले पुल का मरम्मत नहीं होती है तो कभी भी महारास्ट्र की तरह बड़ी घटना होने की संभावना है।धनबाद जिला प्रशासन का कहना है की तेलमच्चो ब्रिज का टेंडर हो गया है जल्द ही काम चालू होगा। वही तेलमच्चो ब्रिज से भरी वाहनो के पार होने के सम्बन्ध में कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया है।

रिपोर्ट – गणेश कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY