ऐसा केवल सुरेश प्रभु के राज में हो सकता है, दंपत्ति ने किया ट्वीट, दवा और दूध दोनों लेकर पहुंचे डाक्टर –

0
353

दिल्ली- रेल मंत्रालय जब से सुरेश प्रभु के हाथ में आई है हर ओर से केवल और केवल वाह-वाही ही बटोर रही है और बहुत ही शांति के साथ I जी हाँ जरूरत मंद की एक ट्वीट पर रेलमंत्री खुद ही उनकी समस्याओं का समाधान निकाल लाते है I

आपको बता दें कि हमेशा लोगों की आलोचनाओं को झेलने वाली रेलवे आज देश के सबसे तत्पर विभागों में है I जिस रेलवे की चारों ओर पहले आलोचाना होती थी आज वह रेलवे पूरे देश के हर एक नागरिक के चेहरे पर मुस्कराहट और ह्रदय में विश्वास को जन्म दे रही है I यह सब इसलिए हो रहा है क्योंकि आजकल रेल मंत्री है सुरेश प्रभु I

भारतीय ट्रेनों में चलने वाला उसका कोई भी यात्री यदि रेलमंत्री को एक भी ट्वीट कर देता है तो सबसे पहले मंत्री जी अपने उस यात्री की समस्या का समाधान ढूढ़ते है उसके बाद में कोई और काम करते है I हाल ही में आपने सुना होगा कि इलाहबाद से एक व्यक्ति ने ट्रेन से ट्वीट किया था और कहा था कि उनके बच्चे को दूध नहीं मिल पा रहा है जिसके बाद रेल मंत्री ने उस बच्चे के लिए स्पेशली ट्रेन को फतेहपुर स्टेशन पर रोकवाकर उनके बच्चे को दूध दिला दिया था I

बच्ची बीमार थी रेल मंत्री को किया ट्वीट ट्रेन में ही आये डाक्टर –

आपको बता दें कि कल का ही मामला है एक ब्यक्ति जिनका नाम ज्ञानेश्वर कुमार मिश्र है वह वाराणसी से जोधपुर चलने वाली मरुधर एकक्सप्रेस ट्रेन से जोधपुर जा रहे थे कि मंगलवार की सुबह-सुबह जब उनकी ट्रेन कानपुर और इटावा के बीच में चल रही थी तभी अचानक से उनकी 15 महीने की छोटी बच्ची की तबियत बिगड़ने लगी I चूँकि ट्रेन गतिमान थी और बीच में उन्हें डाक्टरों की कोई भी मदद नहीं मिल सकती थी अतः उन्होंने हारकर सबसे अंत में रेल मंत्री को ट्वीट कर दिया I

ज्ञानेश्वर मिश्र ने अपने ट्वीट में रेल मंत्री को लिखा कि, “सुरेश प्रभु सर, मेरे बच्चे को बहुत तेज बुखार है, उसे उल्टी हो रही है, जो कि 15 माह का है। प्लीज कुछ करिये। हो सके तो दवा का इंतजाम करवा दीजिये। भूखा है इसलिए उसे दूध की भी जरूरत है”।

दंपत्ति ने मीडिया को बताया कि जैसे ही उन्होंने यह ट्वीट किया है कि ठीक 5 मिनट के अन्दर उनके पास वापस मैसेज आया कि आप अपनी ट्रेन की लोकेशन बताये I दंपत्ति ने अपनी ट्रेन की लोकेशन मंत्री जी को बता दी और उसके बाद जो हुआ बहुत ही आश्चर्यजनक था I

ट्रेन जैसे ही थोड़ी देर में इटावा स्टेशन पर पहुंची दंपत्ति को डाक्टरों की एक पूरी टीम ने अटेंड किया और इतना ही नहीं उन्हें रास्ते के लिए दूध और बच्ची का पूरा चेकअप भी किया गया I

इतना ही नहीं बच्ची के आगे के चेकअप के लिए दंपत्ति को टूडला स्टेशन और उसके बाद आगरा फोर्ट पर भी डाक्टरों की टीम ने अटेंड किया I

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here