गंदगी व जलभराव से आवागमन हुआ मुश्किल, संक्रामक बीमारियां फैलने का खतरा

0
44

कंचौसी/कानपुर देहात(ब्यूरो)-  योगी सरकार के गड्डा मुक्त सड़क की वानगी देखनी हो तो बान गांव चले आए । बान गांव में यह ढूड़ पाना मुश्किल है कि “सड़क पर तालाब है या फिर तालाब में सड़क ” यह नजारा कंचौसी -झींझक मुख्य मार्ग का है। जबकिे रोजाना यहां से क्षेत्रीय जनप्रतिनिध से लेकर जिले के आला अधिकारी इसी मार्ग से होकर निकलते है फिर भी सडक की मरम्मत नही कराई गई और मुख्यमंत्री योगी के 15 जून तक सड़कों के गड्डा मुक्त करने के निर्देशों की पीडब्लूडी के अधिकारी खुलेआम धज्जियां उडा़ रहे है।

गौरतलब हो कि कंचौसी क्षेत्र को जिला मुख्यालय माती जोड़ने वाले इस व्यस्ततम मार्ग के मध्य में बान गांव के अंदर सौ मीटर रोड़ इस कदर खराब है कि गांव के परनालों का सारा दूषित पानी बीच सड़क पर भरा है। पुलिया न बनाए जाने से जल निकासी नही हो पा रही है। जबकि ग्रामींणो ने कई मर्तवा ग्राम प्रधान से लेकर जिले अधिकारियों तक से समस्या को निदान कराने की लिखित मौखिक रूप से अवगत कराया गया बावजूद इसके किसी ने ध्यान नही दिया।

ग्रामीणों ने बताया पूरे साल खराब रहने वाली यह सड़क बरसात में और भी नरकीय हो जाती है। यही नही हमेशा दूषित पानी के जलभराव रहने से राहगीर गिरकर घायल भी होते रहते है और गंदगी के कारण संक्रामक बीमारियां भी फैलने का खतरा बढ़ गया है।

गांव के तेज सिहं, रामवीर, पप्पू सिंह, रामदीन, छेदीलाल, रामबाबू, अहबरन सिंह, प्रताप सिंह, मास्टर ज्ञान सिहं यादव, शशीकांत शुक्ला आदि तमाम लोगों ने जिला अधिकिरी से उक्त मार्ग पर आरसीसी की पुलिया बनवा कर मरम्मत कराने की मांग की है।

रिपोर्ट- लालू भदौरिया

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY