अरविंद केजरीवाल का दावा- DDCA के एक अधिकारी ने बच्चे के सलेक्शन के बदले उसकी माँ को रात में अपने घर बुलाया था |

0
568

दिल्ली- दिल्ली में क्रिकेट की कर्ता-धर्ता DDCA आजकल एक के बाद एक बड़े विवादों में घिरती हुई नजर आ रही है I पहले मुख्यमंत्री के सचिव के यहाँ सीबीआई छापा के बाद अरुण जेटली को लेकर केजरीवाल और उनकी टीम DDCA के ऊपर कथित तौर का भ्रस्टाचार का आरोप लगा रही थी तो अब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बयान देकर नए विवाद को ही जन्म दे दिया है I

डीडीसीए में भ्रष्टाचार को लेकर वित्त मंत्री अरुण जेटली पर हमला बोलने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अब डीडीसीए को लेकर एक ऐसा बयान दिया है जो एक मुख्यमंत्री के पद को तो शोभा नहीं देता है I हा इतना अवश्य है कि दिल्ली सहित पूरे देश के लोगों का भरोषा जरूर छत विक्षत हो सकता है और एक नया विवाद खड़ा हो सकता है I

देश के प्रतिष्ठित निजी समाचार चैनल एनडीटीवी से बातचीत करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि 1 महीने पहले ही DDCA में सलेक्शन को लेकर DDCA के अधिकारी ने एक वरिष्ठ पत्रकार की पत्नी को रात में अपने घर पर आने के लिए कहा था I केजरीवाल ने इस बात का भी दावा किया है कि सुबह जब फोन आया था तो यह बताया गया था कि उनके बेटे का सलेक्शन हो चुका है लेकिन शाम को जब वास्तविक लिस्ट जारी की गयी थी तो पत्रकार के बच्चे का नाम लिस्ट में नहीं था I

उसके बाद DDCA के एक अधिकारी ने पत्रकार की पत्नी को SMS भेज कर कहा था कि यदि वह रात में उसके घर आ जायेंगी तो उनके बेटे का सलेक्शन हो जायेगा I

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने अपने बयान में यह दावा भी किया है कि, ““उनका(एक वरिष्ठ पत्रकार) बेटा क्रिकेट खेलता है. उन्होंने मुझे बताया कि उनके बेटे के चयन का कॉल आया था. पर शाम को बेटे का नाम लिस्ट में नहीं था. अगले दिन पता है क्या हुआ, पत्रकार की पत्नी को एसएमएस आया कि मेरे(अधिकारी के) घर रात को आओ, आपके बेटे का सेलेक्शन हो जाएगा” I

अब दिल्ली के मुख्यमंत्री के इस तरह के बयान से DDCA और उससे संबंधित अधिकारियों में कुछ सुधार हो या न हो लेकिन DDCA में सेलेक्ट होने वाले बच्चों और उनके परिवारों के प्रति तथा अधिकारियों के प्रति आम जनता की नजरें थोडा टेढ़ी अवश्य रहेंगी I क्योंकि इस तरह के बयानों खेलने वाले बच्चों DDCA और उसके अधिकारियों सभी की इज्ज़त पर प्रशनचिंह तो लगा ही है I

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here