रायबरेली : भीषण सड़क दुर्घटना, 8 की मौके पर ही मौत

0
3051

accident
लालगंज रायबरेली : बांदा बहराइच नेशनल हाइवे पर लालगंज गेगासो के मध्य जनता बाजार के पास हुयी भीषण सडक दुर्घटना मे चालक समेत नौ बरातियों की दर्दनाक मौत हो गयी है। बताते है कि आठ लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी थी, जबकि एक की मौत लखनऊ मेडिकल कालेज मे हुयी बतायी जाती है। दुुर्घटना ट्रक व बुलेरो जीप के आमने सामने से हुयी भिडंत से हुयी है।यह भीषण दुर्घटना शनिवार रात एक बजे उस समय हुयी जब बराती कानपुर से दावत खाकर वापस घर लोदीपुर उतरांवा लौट रहे थे। बुलेरो जीप मे दस वर्षीय बालक व चालक समेत 11 लोग सवार थे। घर लौटने की जल्दी मे बुलेरो मे ज्यादा सवारी बैठ गयी थी। सूचना पाकर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक धनंजय सिंह,एसआई बृजपाल सिंह,रामराज सिंह, हृदय नारायण सिंह ने भारी मसक्कत के बाद किसी तरह घायलों समेेत मृतकों को लालगंज के सरकारी अस्पताल पहुंचाया जहां से दो घायलों को लखनऊ भेजा गया। जबकि 6 मृतकों के शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिये रायबरेली भेजा गया। मिली जानकारी के अनुसार लोदीपुर उतरांवा गांव के रामगनेस चैरसिया के पुत्र धर्मेन्द्र कुमार की बारात सरसइया घाट कानपुर के अषोक कुमार के यहां शनिवार को गयी थी। अगवानी व दावत खाने के बाद बुलेरा जीप संख्या यूपी 33 एएच3776 मे बैठकर 11 लोग वापस लौटे। रास्ते मे लालगंज गेगासो के बीच जनता बाजार के पास लालगंज की ओर से आ रहे ट्रक से बुलेरो जीप से सीधी जोरदार भिडंत हो गयी। भिडंत इतनी भयानक थी कि बुलेरो जीप के परखच्चे उड गये है।वहीं ट्रक का भी अगला एक्सल व पहिया निकलकर बाहर चला गया है।मृतकों मे बुलेरो जीप मे सवार लोदीपुर उतरांवा गांव के सुरेष चैरसिया (45) पुत्र देवी सहाय,भगौती सिंह (60) पुत्र षिवदत्त सिंह,कृष्ण बहादुर सिंह (45) पुत्र राजबहादुर सिंह,अनन्तू सैनी (70) पुत्र हनुमान,कृपाषंकर (35) पुत्र सिवलाल सहित जिन्दाखेडा गुलरिहा के रामबिलास चैरसिया (40) पुत्र राम आसरे,गुरूद्वारा रोड लालगंज के श्रीकृष्ण शाक्य (50) पुत्र महाराम और खीरो के सिवचरन उर्फ बाबू चैरसिया (50) पुत्र बच्चू व चालक विकास गुप्ता (34) पुत्र राजेन्द्र कुमार निवासी कोन्सा थाना गुरूबक्शगंज के निवासी बताये जाते है। वहीं गम्भीर रूप से घायल लोदीपुर उतरांवा निवासी रामसंकर (35) पुत्र रामदेव को इलाज के लिये लखनऊ के मेडिकल कालेज मे भर्ती कराया गया है।केवल सिर मे मामूली चोट होेने के चलते दस वर्षीय बालक वैभव उर्फ ऋषभ पुत्र धर्मन्द्र को इलाज के बाद चिकित्सकों ने घर भेज दिया है।

मौके से ट्रक चालक व क्लीनर फरार
accident
लालगंज रायबरेली। कोतवाली पुलिस ने मृतकों के परिवारी जन लोदीपुर निवासी रामनरेस चैरसिया पुत्र भगवती प्रसाद की तहरीर पर ट्रक नं0 यूपी32 डीएन 5727 व उसके अज्ञात चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।प्रभारी निरीक्षक धनंजय सिंह ने बताया है कि दुर्घटना करने वाले ट्रक व बुलेरो जीप को पुलिस ने कब्जे मे ले लिया है।चालक व क्लीनर मौके से फरार है।
इन्सेट

उतरांवा के मालिन टोले मे मचा हुआ है कोहराम
लालगंज रायबरेली। कोतवाली लालगंज क्षेत्र मे हुयी भीषण सडक दुर्घटना से लोदीपुर उतरांवा गांव के मालिन टोला मोहल्ले मे बुरी तरह कोहराम व चीख पुकार मची हुयी है।एक ही मोहल्ले के पांच लोगों व अन्य चार रिष्तेदारों की सडक दुर्घटना मे हुयी मौत से बारात वापसी की खुशी गम मे बदल गयी है। मृतको मे भगौती सिंह अपने पीछे पत्नी मिथलेश सिंह व पुत्र धर्मेन्द्र, चन्द्रमा पुत्री रेखा व लक्ष्मी को रोते बिलखते छोड गये है। वहीं श्रीकृष्ण शाक्य अपने पीछे पत्नी शशि प्रभा व दो पुत्र ऋषि व रवि को बेसहारा कर गये है। सुरेश चैरसिया अपने पीछे पत्नी आसा व दो नाबालिग पुत्रियां निधि व पूजा को अकेला छोडकर चले गये है।अनन्तू सैनी अपने पीछे पत्नी सरोज व एक पुत्र बैजनाथ,दो पुत्रियां नारायण देयी, रामरानी को गमगीन हालत मे छोड गये है। इसके साथ ही कृपा शंकर के परिवार मे पत्नी विनीता पुत्र बालजी, पुत्रियां आस्था,कुंदन की हालत रो रोकर खराब हो गयी है।मृतक रामबिलास अपने पीछे पत्नी सरोज,चार पुत्रियां रोषनी,रष्मी,षसि व सेजल को अकेला छोड गये है। मृतको मे सुरेष चैारसिया व रामबिलास के कोई पुत्र न होने की वजह से परिवार उजड गया है। चालक विकास गुप्ता अपने पीछे पत्नी बेबी व पुत्र राजा व पुत्री गौरी को बेसहारा छोड गया है।

घायल बचे बालक ने बताया आपबीती
accident
लालगंज रायबरेली। दुर्घटना मे साफ व सुरक्षित बचे दस वर्षीय बालक वैभव उर्फ ऋषभ की माने तो वे लोग बुलेरा जीप से कानपुर से बारात होकर घर लोदीपुर उतरांवा लौट रहे थे। तभी तेज रफ्तार बुलेरो अचानक धडाम से ट्रक मे जाकर लड गयी। बुलेरो के दुर्घटना ग्रस्त होते ही चीख पुकार मच गयी। बुलेरो जीप का पीेछे का शीषा टूट जाने की वजह से वो किसी तरह उसी से बाहर निकला,तब तक पीछे से आ रहे वाहन भी रूक गये। मेरे द्वारा घर का मोबाइल नं0 बताये जाने पर लोगों ने मेरे घरवालों व पुलिस को सूचना दी।तब जाकर मौके पर पुलिस व एम्बुलेंस पहंची।आनन फानन पुलिस व एम्बुलेंस से घायलों सहित मृतकों को लालगंज सरकारी अस्पताल मे भर्ती कराया गया। जहां चिकित्सकों ने आठ को मृत घोषित कर दिया व दो लोगों को इलाज के बाद रिफर कर दिया। बच्चे के कम चोट होने की वजह से घर भेज दिया गया।

कोतवाल ने मृतकों के लिये मुहैया कराया जरूरी सामान
लालगंज रायबरेली। भीषण दुर्घटना के बावजूद कोतवाल धनंजय सिंह को छोडकर किसी भी उच्च अधिकारी ने मौके पर पहुंचना उचित नही समझा। जबकि इसके पूर्व कई बार दुर्घटनाओ मे बवाल की घटनायें हुयी थी,जिससे साफ जाहिर है कि पुलिस व प्रशासन के आला अधिकारियों ने पूर्व की बवाल की घटनाओं से सबब नही लिया है। वहीं प्रभारी निरीक्षक धनंजय सिंह ने जहां अपने साथियों के साथ पूरी मुस्तैदी व कर्मठता से मृतकों को पीएम के लिये रवाना किया। वहीं घायलो को अस्पताल भेजवाया। स्वयं कोतवाल के द्वारा मृतकों के लिये कफन व ले जाने के लिये गाडियों की व्यवस्था भी की गयी। मृतकों के परिजन पुलिस की कार्यवाही से संतुष्ट दिखे।

रिपोर्ट – राजेश यादव

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here