भदोही: छप्पर की छाजन करते वक्त टूट कर गिरा बिजली का तार , करंट से किसान की मौत

0
77

भदोही (ब्यूरो)- उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में खपरैल की छाजन करते समय करंट की ज़द में आने से शनिवार को एक किसान की मौत हो गई। आम तौर पर गाँवों में गरीब किसानों के पास आज भी खपरैल की छत है । किसान बारिस के मौसम के पहले उसकी छज्जा करते हैं, जिससे बारिस में खपरैल की छत से पानी न गिरे । किसान की छत से बिजली का तार दौड़ रहा था। अचानक वह टूट गया।उसमें प्रवाहित हो रहे करंट की ज़द में आने से किसान की मौत हो गई।

जिले के गोपीगंज थाने के चकमांधाता (हरदेवपुर) गांव निवासी महेंद्र यादव (34) वर्ष अपने मड़हे के ऊपर खपरैल की छाजन कर रहा था। उसी समय छप्पर के ऊपर से गुजरी रही 440 वोल्ट के पोल का स्टेतार टूट गया । जिसकी वजह से छप्पर से गुजर रहा विद्युत तार युवक के शरीर से लिपट गया, उस दौरान उसमें करंट प्रवाहित हो रहा था । जिसकी ज़द में आने से युवा किसान बुरी तरह झुलस गया ।

उपचार हेतु किसान को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया । मौत की खबर लगते ही परिजनों में कोहराम मच गया। किसान के पास तीन बेटियाँ और दो बेटे हैं । खेती कर किसी तरह परिवार की आजीविका चलाता था। परिजनों ने विद्युत विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया है। गरीब किसान को प्रधानमंत्री या फ़िर लोहिया आवास की सुविधा मुहैया कराई गई होती तो उसकी जान न जाती । लेकिन गरीबों के कल्याण लिए बनी योजनाओं का जिले में पुरसाहाल नहीँ है । पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।

रिपोर्ट- राजमणि पाण्ड़ेय

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY