पत्रकार की मौत से पत्रकार जगत में शोक, अईरा ने मुख्यमंत्री से की मुआवजे और दोषियों की जल्द गिरफ़्तारी की मांग

0
120

कानपूर ब्यूरो : कानपुर की सर जमीन पर एक और पत्रकार सच्चाई की बलिवेदी पर अपनी जान गंवा बैठा जैसे ही पत्रकार वीरु के मृत्यु की सूचना आई पूरे पत्रकार जगत में शोक की लहर दौड़ गई ऑल इंडियन रिपोर्टर एसोसिएशन (आईरा) नें इस प्रकरण का तत्काल संज्ञान लिया और संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पुनीत निगम जी ने तत्काल प्रकरण से मुख्यमंत्री कार्यालय को अवगत करवाया वही राष्ट्रीय प्रवक्ता तारिक आज़मी जीने उच्चाधिकारियों से दूरभाष पर बातचीत किया उसका नतीजा हुआ कि सम्बंधित चौकी इंचार्ज को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया और वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक आकाश कुलहरी ने संबंधित थाना प्रभारी को 24 घंटे के अंदर दोषियों पर कार्यवाही का आदेश पारित किया।

मृतक पत्रकार के पोस्टमार्टम हेतू आईरा के प्रदेश महासचिव अविनाश श्रीवास्तव के नेतृत्व में जिला अध्यक्ष आशीष त्रिपाठी जिला महामंत्री मोहम्मद नदीम वरिष्ठ संयुक्त मंत्री दिग्विजय सिंह के साथ सैकड़ों आईरा सदस्य पत्रकार पोस्टमार्टम हाउस पर इकट्ठा हो गए। शहीद हुए पत्रकार वीरू सिंह के अंतिम संस्कार हेतु चारों कंधे भी आईरा के सदस्य पत्रकारों ने दिए।

अंतिम संस्कार के बाद आईरा कार्यालय पर हुई शोकसभा में पत्रकार की मृत्यु पर 2 मिनट का मौन धारण किया गया। आईरा सदस्य पत्रकारों ने उत्तर प्रदेश सरकार से शहीद पत्रकार के परिजनों को रुपए 25 लाख मुआवजा राशि देने और जल्द से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग का प्रस्ताव पारित किया गया। इस संबंध में आगे की रणनीति के तहत निर्णय लिया गया कि पूरे देश में फैले संगठन के सदस्यों के द्वारा अपने अपने ज़िलों से शहीद पत्रकार हेतु आईरा इन दो सूत्रीय मांगो से संबंधित ज्ञापन दिया जाएगा। यदि प्रदेश सरकार द्वारा जल्द से जल्द आवश्यक कार्रवाई इस प्रकरण में नहीं होती है तो देशव्यापी आईरा के सदस्य सड़कों पर प्रदर्शन करने को बाध्य होंगे। शहीद पत्रकार के अंतिम यात्रा एवं आईरा के बैठक में प्रमुख रूप से अविनाश श्रीवास्तव, आशीष त्रिपाठी, मोहम्मद नदीम, दिग्विजय सिंह, मंगल सिंह, आलोक सिंह जादौन, संजय शर्मा, निजामुद्दीन, जयंत, रवि और अमित सहित सैकड़ों पत्रकार मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here