30 सितम्बर तक यदि अपने काले धन का ब्यौरा नहीं दिया तो कोई आपकी मदद नहीं कर पायेगा : पीएम मोदी

0
227

 

Modi

अपने 21वें मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने काले धन के मुद्दे पर देश को एकजुट होने और सरकार का सहयोग करने की अपील की | देश कि जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने स्पष्ट किया कि जिन लोगों के पास भी अघोषित आय या संपत्ति है उनके पास यह आखिरी मौका है कि वह उसका ब्यौरा सरकार को मुहैया करा दें |

सरकार आपको यह सुनहरा अवसर प्रदान कर रही है कि आप अपनी अघोषित आय घोषित कर दें और जुर्माना देकर भविष्य में होने वाली समस्याओं से निजात पालें |

उन्होंने कहा “हम वादा देश का जो भी नागरिक स्वेच्छा से अपनी संपत्ति और आय का ब्यौरा सरकार को मुहैया करा देगा सरकार उसके खिलाफ कोई जांच नहीं करेगी, उनसे उनकी उस संपत्ति को लेकर कोई सवाल नहीं पूछा जायेगा | सरकार एक बार भी आपसे सवाल-जवाब नहीं करेगी कि इतना धन कहाँ से आया कैसे आया ? इसीलिए मै अपील करता हूँ आप सब इस पारदर्शी व्यवस्था का हिस्सा बन जाइये |

उन्होंने कहा 30 सितम्बर तक के इस मौके को आखिरी मौका मान लीजिये, मैंने अपने सांसदों से भी कहा था कि 30 तक यदि कोई इस सरकारी व्यवस्था से नहीं जुड़ता है तो इसके बाद बाद में उसकी कोई मदद नहीं हो सकेगी |

उन्होंने ‘आपातकाल की काली रात’ के बारे में कहा कि 39 साल पहले लोगों की आवाज़ दबा दी गई थी, लेकिन देश की जनता ने लोकतंत्र के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को नहीं छोड़ा और उसका ही नतीजा है कि अब जनता खुद तय कर रही है कि सरकार कैसा काम कर रही है.

मोदी ने कहा, “कभी-कभी कुछ लोग मेरे मन की बात कार्यक्रम का मजाक उड़ाते हैं और इसकी आलोचना भी करते हैं. ये इसीलिए संभव है क्योंकि हम लोकतंत्र के बारे में प्रतिबद्ध हैं.”

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY