पं0 दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना में नये कार्य जनप्रतिनिधियों के प्रस्ताव के अनुरूप किये जाये

0
82

 

प्रतापगढ़ (ब्यूरो)- जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की आज सम्पन्न बैठक में सांसदगणों एवं विधायकगणों ने एक स्वर से मांग किया कि पं0 दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत अब जो भी नये कार्य कराये जाये उनमें जनप्रतिनिधिगणों के प्रस्ताव के अनुरूप कार्य सम्पन्न कराये जाये। विकास भवन के पं0 दीनदयाल उपाध्याय सभागार में सम्पन्न समिति की बैठक की अध्यक्षता सांसद कुंवर हरिवंश सिंह ने किया।
इस बैठक में कौशाम्बी के सांसद श्री विनोद सोनकर के अलावा विश्वनाथगंज के विधायक डा0 आर0के0 वर्मा, रानीगंज के विधायक श्री धीरज ओझा, बाबागंज के विधायक विनोद सरोज, अध्यक्ष जिला पंचायत उमाशंकर यादव, ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग के मंत्री श्री मोती सिंह के प्रतिनिधि विनोद पाण्डेय सहित ब्लाक प्रमुख के अलावा अन्य जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे। प्रारम्भ में जिलाधिकारी श्री शरद कुमार सिंह ने सांसदगणों एवं विधायगणों अन्य जनप्रतिनिधिगणों का स्वागत किया। मुख्य विकास अधिकारी श्री राज कमल यादव ने बैठक में बिन्दुवार समीक्षा हेतु प्रस्तुत कार्यक्रमों की रूपरेखा प्रस्तुत किये।

बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि जनपद के 1 लाख 22 हजार 971 मनरेगा जांब कार्ड धारकों को प्रधानमंत्री दुर्घटना बीमा योजना से आच्छादित किया जाये ताकि मनरेगा मजदूरों को किसी विपरीत परिस्थिति में उन्हें दुर्घटना बीमा योजना का लाभ मिल सके। विकलांग पेंशन, वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन के बारे में जनप्रतिनिधिगणों ने एक स्वर से कहा कि इन योजनाओं में किसी की पेंशन बन्द न हो और यदि बन्द करने की स्थिति आती है तो जिलाधिकारी महोदय की अनुमति से ही पेंशन बन्द की जाये और यह देखा जाये कि पेंशन बन्द करने के पर्याप्त कारण मौजूद हो।

जनप्रतिनिधिगणों ने यह भी सुझाव रखा कि प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों की संख्या के अनुरूप मानक के अनुसार ही शिक्षक तैनात हो, ऐसा न हो कि विद्यालय में बच्चों की संख्या 25 से भी कम हो और वहां 3 से अधिक शिक्षक कार्यरत हो। बैठक में जनप्रतिनिधियों ने यह बात रखी कि जनपद में कई स्थानों पर ग्राम समूह पेयजल योजना के अन्तर्गत पानी की टंकियाॅ तो निर्मित हो गयी है लेकिन जलापूर्ति नही हो पा रही है। इस पर अधिशासी अभियन्ता जल निगम से जनप्रतिनिधिगणों ने रिपोर्ट भी मांगी है और जिलाधिकारी से कहा है कि एक पृथक समिति बनाकर इसकी जांच भी करा ली जाये।

आज की बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि जनपद में जहां लकड़ी के खम्भों पर तार दौड़ाये गये है वहां अविलम्ब सीमेण्ट के पोल से बदल दिये जाये और जहां जर्जर तार लटके हुये है उन्हें भी बदला जाये। इस सम्बन्ध में अधिशासी अभियन्ता विद्युत से त्वरित कार्यवाही की मांग की गयी। समिति के बैठक के समापन पर जनप्रतिनिधिगणों का, सांसदगणों का, विधायगणों के प्रति आभार प्रदर्शन मुख्य विकास अधिकारी श्री राज कमल यादव ने किया।  इस अवसर पर जिलाधिकारी श्री शरद कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी श्री राज कमल यादव, परियोजना निदेशक श्री अरविन्द सिंह, जिला विकास अधिकारी श्री राजेन्द्र कुमार वर्मा सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी भी उपस्थित थे।

रिपोर्ट – अवनीश मिश्रा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY