दक्षिणी चीन सागर में अगर चीन ने कुछ भी किया तो हम कार्यवाही करेंगे – अमेरिकी रक्षामंत्री

0
10919

सिंगापुर- दक्षिणी चीन सागर को लेकर लगातार विवाद बढ़ता ही जा रहा है | आज इसी मामले पर अमेरिकी रक्षा मंत्री एस्टन कार्टर ने चीन को दक्षिणी चीन सागर के मुद्दे पर सीधे चेतावनी देते हुए कहा है कि अब यदि चीन किसी भी प्रकार का या फिर कोई भी नया निर्माण दक्षिणी चीन सागर में करता है तो उसे काफी मंहगा पड़ेगा | अमेरिकी रक्षा मंत्री ने सिंगापुर में एक कार्यक्रम में बोलते हुए कहा है कि चीन के दक्षिणी चीन सागर में इस तरह के कदम बाकी के पडोसी देशों को उकसाने वाले माने जा सकते है और अमेरिका इस मामले में कार्यवाही करेगा |

दक्षिणी चीन सागर पर चीन सहित अन्य देश भी जताते है मालिकाना हक़ –
बता दें कि दक्षिणी चीन सागर जहां पर चीन अपना मालिकाना हक़ जताने की कोशिश कर रहा है और निर्माण कार्य कर रहा है वह एक बेहद विवादित क्षेत्र है | इस क्षेत्र पर चीन के अलावा भी चीन के कई पडोसी देश ब्रूनेई, मलेशिया, फिलीपींस, ताइवान और वियतनाम भी अपना मालिकाना हक़ जताते रहे है | फिलहाल पिछले काफी समय से चीन इस इलाके में जबरन कब्जा कर रहा है और इतना ही नहीं चीन ने यहाँ पर समुद्र से मिटटी निकालकर कृत्रिम द्वीपों का निर्माण भी किया है | इन द्वीपों पर चीन रक्षा सम्बन्धी उपकरण स्थापित कर रहा है |

सिंगापुर में सुरक्षा सम्मलेन में बोले अमेरिकी रक्षामंत्री –
सिंगापुर में एक सुरक्षा सम्मलेन में भाग लेने आये अमेरिकी रक्षा मंत्री एस्टन कार्टर ने चीन को चेतावनी देते हुए कहा है कि चीन अगर विवादित क्षेत्र में सैन्य विस्तार करता है तो चीन स्वयं ही अलगाव की दीवार को और अधिक मजबूत करेगा | चीन अपने सभी पडोसी देशों से एकदम कट जाएगा | हालाँकि अमेरिकी रक्षामंत्री ने यह भी कहा है कि किसी भी प्रकार के खतरे को कम करने के लिए द्विपक्षीय वार्ता हो सकती है और बातचीत के जरिये इस मुद्दे का हल निकाला जा सकता है |

स्कारबोरो शोल के बारे में पूछने पर कार्टर ने कहा, ‘मैं आशा करता हूं कि इस दिशा में कोई विकास ना हो, क्योंकि उसके परिणामस्वरूप संयुक्त राज्य अमेरिका और क्षेत्र में मौजूद अन्य पक्षों द्वारा कार्रवाई की जाएगी, और उससे क्षेत्र में ना सिर्फ तनाव बढ़ेगा बल्कि चीन अलग-थलग भी पड़ जाएगा |’ कार्टर जिस मंच पर बोल रहे थे, वहां चीन की सेना के शीर्ष अधिकारी भी मौजूद थे |

 
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here