इस बार जम कर सताएगी देहरादून की गर्मी

0
152


देहरादून : मौसम में बदलाव के साथ ही इस साल की गर्मी में आपके जमकर पसीने छूटेंगे। इस साल फरवरी माह से ही मौसम में बदलाव आना शुरू हो गया  है और गर्म हवाओं के कारण ठिठुरन भी दूर हो चुकी है। मौसम विभाग का अनुमान है कि इस बार देश में सामान्य से ज्यादा तापमान का अनुमान है जिसके कारण देश के कई राज्यों में तेज गर्म हवाएं और लू चल सकती  है। भारतीय मौसम विभाग ने मार्च से मई तक के गरम सीजन का अनुमान जताया है। हालांकि उत्तराखंड में बुधवार को बादल छाये रहेंगे साथ ही कुछ इलाकों में हल्की बूंदा-बांदी के साथ बर्फ़बारी भी हो सकती है।

मौसम विभाग की मानें तो इस बार की गर्मी से देश का उत्तर पश्चिम इलाका ज्यादा प्रभावित होगा। यहां तापमान सामान्य से एक डिग्री ज्यादा रहने का अनुमान है, वहीं देश के दूसरे हिस्सों में भी तापमान सामान्य से ऊपर जाने की उम्मीद जताई जा रही है। मौसम विभाग की ओर से कहा गया है कि इस बार देश के ज्यादातर हिस्सों में सामान्य से एक डिग्री तक तापमान रह सकता है। उत्तर-पूर्व के इलाकों में जरूर तापमान में वृद्धि की संभावना है, यहां तापमान में एक डिग्री से ज्यादा की वृद्धि होने की संभावना है।

गर्मी का असर होगा इन राज्यों में
इस बार की गर्मी का असर पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और तेलंगाना में होगा, लू चलने वाले इलाकों में महाराष्ट्र के मराठ वाड़ा, मध्य महाराष्ट्र और विदर्भ का क्षेत्र शामिल है। इसके अलावा आंध्र प्रदेश के तटीय इलाके में भी लू के थपेड़े लोगों के परेशान करेंगे।

साल 1901 के बाद  2016 रहा सबसे गर्म
साल 1901 के बाद साल 2016 सबसे गर्म साल रहा, राजस्थान के फलोदी इलाके में सबसे ज्यादा पारा चढ़ा, यहां तापमान 51 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि सबसे ज्यादा है। गौरतलब हैं कि पिछले साल करीब 1600 लोगों की जान जलवायु में परिवर्तन की वजह से गई, इनमें करीब 700 लोगों की जान भीषण गर्मी और लू की वजह से हुई , इनमें आंध्र प्रदेश और तेलंगाना शामिल हैं जहां 400 लोगों के मौत का कारण भीषण गर्मी बनी।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY