हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन, दुबहर थानाध्यक्ष पर लगाया अपराधियों को बचाने का आरोप

बलिया(ब्यूरो)- दुबहड़ थाना अन्तर्गत ग्राम-शिवपुर दियर नई बस्ती अखार-ब्यासी, निवासी डॉ. दीनानाथ प्रसाद के हत्या के मामले में न्याय के लिए बुधवार को मृतक डॉ. दीनानाथ प्रसाद की पत्नी श्रीमती कमला देवी, राजेन्द्र प्रसाद, अशोक कुमार सहित समस्त पीड़ित परिजन, कम्युनिष्ट पार्टी भाकपा (माले), मापका तथा गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के लोगों के साथ प्रदर्शन किया। एक प्रतिनिधि मण्डल जिलाधिकारी/पुलिस अधीक्षक, बलिया से मिला तथा इस घटना को सामन्ती एवं रंगदारी वसूली के लिए की गयी| हत्या बताते हुए सभी हत्यारों को तत्काल गिरफ्तार करने तथा समस्त पीड़ित परिजनों के जान माल की सुरक्षा करने मांग की।

इस हत्या काण्ड की विवेचना कर रहे थानाध्यक्ष दुबहड़ को अपराधियों को बचाने का भी आरोप लगाया। कहा कि अपराधी ऊँची राजनैतिक पहुँच वाले लोग हैं। इस वजह से स्थानीय पुलिस हत्याकाण्ड में शामिल लोगों को बचा रही है। अभी तक मात्र चार लोग ही गिरफ्तार हुए हैं तथा शेष आठ लोग खुलेआम घुम रहें हैं। पीड़ित लोगों पर मुकदमा सुलह करने का दबाव बना रहें हैं, नहीं तो परिणाम भुगतने की धमकी दे रहें है।

प्रतिनिधि मण्डल में शामिल मृतक के पुत्र राजेन्द्र प्रसाद व बहू ने पूरी घटना पुलिस अधीक्षक से बताया तथा उक्त हत्या काण्ड के विवेचक को बदल कर किसी दूसरे थाने या पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी कराने की मांग की। इस पर पुलिस अधीक्षक, बलिया ने पीड़ितों का ज्ञापन स्वीकार करते हुए न्याय होने का भरोसा दिलाया। नेता कामरेड लक्ष्मण यादव व नेता अरविन्द गांडवाना ने संयुक्त रूप से कहा कि भारत को आजाद हुए 70 वर्ष होने को है लेकिन आखार ब्यासी निवासी पिछड़े, दलित, शोषित, कमजोर गरीब लोग, सामन्ती उतपीड़न, अत्याचार से आज तक आजाद नहीं हो पायें है। भाजपा की योगी-मोदी राज में गरीब कमजोर लोगों पर आये दिन हत्या, जानलेचा हमला, सामन्ती उत्पीड़न की घटनाओं में बढ़ोत्तरी हुई है। अत्याचार समान्ती उत्पीड़न चरम पर है। ऐसी स्थिति में पिछड़े, दलित, शोषित, कमजोर गरीब लोगों को संगठित होकर सामन्ती उत्पीड़न, अत्याचार से आजादी के लिए संगठित संघर्ष छेड़ने की आवश्यकता है।

इस अवसर पर माले के कामरेड लक्ष्मण यादव, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के अरविन्द गांडवाना, सीपीएम के कामरेड-रामकृष्ण यादव, मृतक के पुत्र राजेन्द्र प्रसाद, अशोक कुमार, शिव दयाल साह, राजकुमार, शिवशंकर प्रसाद, वीरेन्द्र प्रसाद, सुपन बारी, हरिशंकर प्रसाद, मृत्युन्जय गोंड, कृष्णा कुमार, विजय साहनी, कुँवर सिंह, शिवशंकर मास्टर, बैजनाथ गुप्ता, प्रभुलाल श्रीवास्तव, खलीफा साह, बैजनाथ गुप्ता, अखिलेष गुप्ता, सुरेन्द्र गोंड़, छोटे लाल साहनी, भरत साह, कृपाशंकर गुप्ता, हरिशंकर गुप्ता, धमेन्द्र साहनी, संजय साहनी, सुरेन्द्र साहनी, बिहारी साह, हरेराम साह, अच्छेलाल गुप्ता, शिवनारायण साह, हरिशंकर सिंह, शिवजी गुप्ता, रामनाथ गुप्ता, अनिल गुप्ता, लक्ष्मण साहनी, संतोष गुप्ता, गंगाजली देवी, रीता गुप्ता, संगीता गुप्ता, विमला देवी, सुशीला देवी, अनीता देवी आदि लोग उपस्थित रहे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here