इवीएम को हटाकर बैलेट पेपर से आगामी चुनाव कराने की मांग

0
98

बलिया(ब्यूरो)- राष्ट्रव्यापी लोकतंत्र बचाओं आंदोलन के अंतर्गत इवीएम हटाओं, बैलेट पेपर लाओं और लोकतंत्र बचाओं इस अभियान के अंतर्गत भारत के 550 जिला मुख्यालयों पर सभी सामाजिक संगठनों तथा राजनैतिक पार्टियों द्वारा भारत के लोकतंत्र को बचाने के लिए 21 अप्रैल सुबह 11 बजे से सायं पांच बजे तक प्रदर्शन रैलियां की गयी।

यह प्रदर्शन रैलियां इवीएम के द्वारा चुनाव प्रक्रिया बंद करके बैलेट पेपर के आधार पर चुनाव कराया जाय इस मुद्दे पर हुआ, क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने आठ अक्टूबर 2013 को यह आदेश दिया था कि इवीएम से मुक्त निष्पक्ष एवं पारदर्शी चुनाव नहीं हो सकता है। इसलिए इवीएम मशीन के साथ पेपर ट्रेल मशीन लगाने का आदेश भी सुप्रीम कोर्ट ने दिया था, लेकिन चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन नहीं किया। ऐसा करके चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन किया है। यह बहुत गंभीर बात है इससे न्यायपालिका की अवमानना हुई है। मशीन के साथ पेपर ट्रेल मशीन ना लगाने की वजह से वोटों का सत्यापन करना सम्भव नहीं है। यह वजह है कि मशीन के ऊपर से जनता का विश्वास खत्म हो गया है। मशीन में वोटर के वोटो का सत्यापन करने का प्रावधान ना होने की वजह से अर्थात पारदर्शिता ना होने के कारण नागरिकों के मौलिक अधिकार के हनन होने के साथ-साथ लोकतंत्र की भी हत्या हो रही है। अभी तक देश के प्रमुख राजनैतिक दलों ने सामाजिक संगठनों ने विविध संस्थाओं ने इवीएम मशीन पर अविश्वास जताया है और सुप्रीम कोर्ट भी इस बात को मानता है। संयोजक शैलेन्द्र कुमार के नेतृत्व में लोगों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा।

रिपोर्ट- संतोष कुमार शर्मा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here