भरसर से लेकर हल्दी तक बने रिंगबांध मरम्मत की मांग

बलिया (ब्यूरो) बरसों से बाढ़ की भयानक विभीषिका झेल रहे लोगों ने जिला प्रशासन तथा प्रदेश सरकार के मुखिया को  भरसर से लेकर हल्दी तक रिंगबांध बनाने की मांग तेजी से उठाने लगी हैं। इसको लेकर गुरुवार के दिन दुबहर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर पूर्व जिला पंचायत सदस्य अरुण सिंह की अध्यक्षता में बाढ़ पीड़ितों की एक बैठक संपन्न हुई। बैठक में सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि अगर जिला प्रशासन और प्रदेश सरकार द्वारा दुबहर से हल्दी तक रिगबांध का निर्माण पूर्ण नही किया जाता तो इस इलाके के लोग दुबहर थाने से हल्दी थाने तक मानव श्रीखला बनाकर पदेश सरकार तथा जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया जायेगा।

ज्ञात हो की उस अधूरे पड़े रिग बंधे का निर्माण हो जाय तो दर्जनों गांवो को बाढ़ की विभीषिका से बचाया जा सकता है। बैठक को संबोधित करते हुए पूर्व जिला पंचायत सदस्य अरुण सिंह ने कहा कि इसके लिए बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का प्रतिनिधिमंडल जल्द ही जिलाधिकारी बलिया से मिलकर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन भी सौपेगा। कहा कि इस क्षेत्र के लोगो के लिए यह कार्य अत्यंत महत्वपूर्ण है। इसके लिए जिले के सभी छोटे बड़े सभी प्रतिनिधियों को अपने स्तर से आवाज उठानी चाहिए। कहा कि एक बार बाढ़ आने के बाद लोगो को अपनी गृहथि बनाने में बरसों लग जाते हैं। इसके लिए ठोस प्रयास करने की नितांत आवश्यक्ता है।

रिंगबंधा का निर्माण हो जाता है तो इससे बेहतर उपाय कुछ नही है। बैठक में रमेश चौबे, प्रमोद कुमार सिंह, लाल जी यादव, सोनू पांडेय, मोहन यादव, नसीम खा, नमो नारायण पांडेय, संजय चौबे, दिनेश शर्मा, ललन सिंह, सुनील राय, धर्मेन्द्र पासवान, जितेंद्र राम आदि लोग रहे । संचालन अनिल चौबे ने किया।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY