स्वास्थ्य एवं शिक्षा में सुधार हेतु विभागीय अधिकारी योजनाओ को धरातल पर लाये

0
65

श्रावस्ती(ब्यूरो) – पूरे भारत वर्ष में 115 जिले शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में पिछड़े हैं जिसमें से इस जनपद का भी नाम है। इसलिए सभी विभागीय अधिकारियों का दायित्व बनता है कि वे जिले के चहुॅमुखी विकास के लिए योजनाओं को धरातल पर उतारें एंव बिना भेदभाव के पात्रों को लाभान्वित करें तथा उसकी बेहतर ढ़ग से मानीटरिंग भी करें ताकि कोई भी पात्र व्यक्ति सरकार की योजनाओं से अछूता न रहने पावे।जिससे इस जनपद का सर्वागीण विकास हो और जनजन के चेहरो पर मुस्कान आ सके ।

उक्त विचार प्रदेश की अपर मुख्य सचिव, महिला कल्याण, राजस्व, भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग /शासन द्वारा नवनियुक्त जिले की नोडल अधिकारी श्रीमती रेणुका कुमार ने कलेक्ट्रेेट सभागार में तमाम विभागो के जिलास्तरीय अधिकारियो के साथ विकास कार्यो की विभागवार गहन समीक्षा करने के दौरान व्यक्ति किया उन्होने जोर देते हुए कहा कि जिले में स्वास्थ्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में बहुत ही सुधार की आवश्यकता हैं इसलिये सम्बन्धित विभागीय अधिकारियो कि बहुत बङी जिम्मेदारी बनती है कि वें अपने दायित्व को एक मिशन के रुप में लेकर कार्य करे ताकि जिले में शिक्षा और स्वास्थ्य के स्तर में सुधार आ सके ।

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि प्रदेश के माननीय मुख्य मंत्री पूरे प्रदेश में 15 अगस्त 2018 को वृक्षा रोपण का विशेष अभियान चलाने का निर्देश दिया हैं तथा विभिन्न विभागों को वृक्षा रोपण कराने हेतु लक्ष्य का निर्धारण करके दिया गया हैं जिसमे क्रमश; वन विभाग. गा्रम्य विकास उघान विभाग एवं नगर विकास विभाग हैं जिले कुल 21 लाख 30 हजार वृक्षारोपण का लक्ष्य दिया गया है उन्होने वृक्षा रोपण से सम्बध्न्ति विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वृक्षा रोपण स्थल पर गाटा संख्या पौधा रोपण की संख्या का वृक्षारोपण स्थल पर साईन बोर्ड भी लगाना होगा तथा पूरे विवरण को अपलोड भी करना होगा ।

जिलाधिकारी दीपक मीणा ने अपर मुख्य सचिव को अवगत कराया कि जिले में वृक्षारोपण अभियान को बेहतर ढंग से सम्पन्न कराने हेतु नोडल अधिकारियो की तैनाती की गयी हैं जो वृक्षारोपण कार्यो को ढंग से सम्पन्न करायेंगे । इसके लिए हर विभाग अपना अपना कन्टोल रुम भी स्थापित करेगें। ग्राम स्वराज योजना द्वितीय की समीक्षा बैठक करने के दौरान व्यक्त की है। इस दौरान नोडल अधिकारी ने ग्राम स्वराज योजना के अन्तर्गत प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, सौभाग्य योजना, उजाला योजना, प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना तथा मिशन इन्द्र धनुष के तहत मिलने वाली योजनाओं के बारें में जानकारी सम्बन्धित अधिकारियों से प्रगति की जानकारी ली तथा गरीबो के सुविधा हेतु संचालित योजनाओ से जिले के हर पात्र जन को लाभान्वित करने का निर्देश दिया।

स्वाथ्य विभाग द्वारा संचालित मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान उन्होने कहा कि नवजात शिशुओ और महिलाओ एवं गर्भवती महिलाओ को स्वस्थ्य रखने के उददेश्य से इस योजना का संचालन किया जा रहा हैं।इस लिये इस योजना की ढंग सक माॅनिटरिंग की जाये ताकि जिले का कोई भी नव जात शिशु व गर्भवती महिला टीका करण ब्स्वास्थ्य सेवाओ से वंचित ना रह जाये ।उन्होने कहा कि आशा संग्नी आशावार समीक्षा भी कि जाये तथा ढंग से कार्य ना करने वाली आशा संग्नी एवं आशाओ के विरुध कार्य वाही भी की जाये तथा जो आशाओ के पद रिक्त हैं उन्हे इस माह के अन्दर प्रस्ताव कराकर अवश्य भर दिये जाय।

इस दौरान नोडल अधिकारी ने मुख्यचिकित्साधिकारी से हवा बाजी नही बल्कि ढंग से कार्य करने कि नसीहत भी दी। उन्होने कहा कि दुबारा जिले के निरीक्षण के दौरान सी.एच.सी/पी.एच.सी एवं अन्य निर्माणाधीन विकास कार्यो का स्थलीय निरीक्षण भी होगा यदि निरीक्षण के दौरान कमी मिली तो निश्चित ही सम्बन्धित विभागीय अधिकारियो एंव कार्यदायी संस्थाओ के विरुद्व कङी कार्यवाही भी की जायेगी। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि यहाॅ पर पर्यटन की अपार संभावनाये है। इसके लिए हम सभी को टीम भावना के साथ काम करके जिले को विकसित करना होगा और जनपद को और हरा भरा बनाने हेतु वृक्षारोपण का लक्ष्य पूरा करके सरकार के मंशा पर खरा उतरना होगा।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय .अपरजिलाधिकारी ओ.पी.सिंह उपजिलाधिकारी क्रमश. भिन्गा माया शंकर यादव जमुनहा राज कुमार, अपरमुख्यचिकित्साधिकारी डा0 मुकेश मातनहेलिया. अधिशाषी अभियन्ता क्रमशः विधुत लो0नि0वि0 बी0एस0ए0 डी0पी0आर0ओ0. डी0डी0ऐ0जी. एल0डी0एम0 जिला कृषि अधिकारी डी0एस0ओ0 एवं खनन निरीक्षक चन्द्र प्रकाश सहित सम्बन्धित तमाम विभागो के अधिकारी गण उपस्थित रहे ।

रिपोर्ट- पंकज वर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here