खबर का असर: डिप्टी CMO ने किया स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण

0
168

सफीपुर(उन्नाव)- उत्तर प्रदेश के जनपद में ख़बर का असर दिखाई पङा डिप्टी सी एम ओ ने किया स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सफीपुर का औचक निरीक्षण किया, महिला स्वास्थ्य विभाग की पोल खुल गई, चारों महिला डाक्टर अनुपस्थिति मिली तब प्रभारी चिकित्साधिकारी को फटकार लगाईं गयी और वेतन रोकने के कड़े निर्देश दिये है जबकि इतना ही नहीं कम्पूटर आपरेटर को बुला कर हिदायत भी दी है कि उच्च अधिकारियों से समक्ष माह उपस्थिति गलत बनाकर ना प्रस्तुति कि जाये , यदि इसमें कोई लापरवाही पायी गयी तो सख्त कार्यवाही की जाएगी । इससे पूर्व भी अधिकारियों के भ्रमण में अनुपस्थित मिलने वाले चिकित्सकों का पूरे माह का वेतन निर्गत किया गया था।

बताते चले की उत्तर प्रदेश में सरकार बदल गयी लेकिन स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की महिला चिकित्सकों की रवैये नहीं बदली है स्थानीय सामुदायिक स्वस्थ्य केन्द्र में महिला डाक्टर प्रीति शरमन, डा.क्षमा शुक्ला, डा.अंजली सिंह तैनात है| जिसमें आज डिप्टी सीएमओ के औचक निरीक्षण में महिला डाक्टर फ़िर से अनुपस्थित पायी गयी बताया जाता है कि डिप्टी सीएमओ निरीक्षण करके चले गये| तब लगभग एक बजे डा प्रीति शरमन अस्पताल पहुँची तथा कुछ ही देर रुकने के बाद लगभग तीन बजे वापस चली गयी और दूर दराज से आयी महिला मरीजों को देखना तक ज़रूरी नहीं समझा पूर्व में भी उच्च अधिकारियों ने स्वास्थ केंद्र निरीक्षण में इन महिला डाक्टरों को अनुपस्थित पाया गया लेकिन कार्यवाही के नाम पर खाना पूर्ति की गयी| जिससे इन महिला डाक्टरों के हौंसले इतने बुलंद हो गये कि आज फ़िर डिप्टी सीएमओ के औचक निरीक्षण में सभी महिला डाक्टर अनुपस्थित मिली| इन महिला डाक्टरों के न आने से दूर दराज से आने वाली महिला मरीजों को दर दर भटकना पड़ रहा है और मजबूरी में झोलाछाप डाक्टरों से अपना इलाज करा रही है| जिससे झोलाछाप डाक्टर महिला मरीजों से इलाज के नाम पर मोटी रकम वसूल रहे है। अपने पिछले दौरे में अनुपस्थित मिली चिकित्सकों का पूरा वेतन दिए जाने पर डिप्टी सी एम ओ व प्रभारिचिकित्साधिकारी एक दूसरे पर दोषारोपण कर मामला ठन्डे बस्ते में डालते रहे जबकि कई बार शिकायतें प्रकाश में आ चुकी है और महिला डॉक्टर लगातार नदारत मिली।इसके बावजूद भी इन महिला डॉक्टरों पर कोई कार्यवाही न होना यह प्रश्न बना हुआ है।

रिपोर्ट- जितेन्द्र गौड़
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here