देशविरोधी नारों के बाद एमनेस्टी इंटरनेशनल पर देशद्रोह का मामला दर्ज…

0
1212

Blr-azadi-nara-
शनिवार रात एमनेस्टी इंडिया की तरफ से आयोजित एक सेमीनार में कश्मीरी परिवारों को बुलाया गया था, जो कश्मीर में हो रहे अत्याचारों की दास्तां सूना रहे थे, इसी बीच कुछ कश्मीरी पंडित सेमीनार में आ गए और देखते ही देखते दोनों पक्षों में झड़प शुरू हो गयी, स झड़प के बाद का एक तथाकथित वीडियो सामने आया जिसमें कुछ युवा चिल्लाते हुए सुने जा सकते हैं, “हमको चाहिए आज़ादी.”

घटना की खबर मिलते ही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् और दूसरे संगठन सभागार के बाहर विरोध प्रदर्शन करने लगे, मामले कू टूल पकड़ता देख कर्नाटका सरकार के मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पात्र लिखकर मामले में हस्तक्षेप करने का आग्रह किया |

इस मामले पर सफाई देते हुए एमनेस्टी इंटरनेशनल का कहना है कि मानवाधिकारों से जुड़े मामलों पर लोगों की राय जानने के लिए संगठन इस प्रकार के डिबेट कार्यक्रम करवाता है और और वो किसी का भी पक्षधर नहीं है |

एमनेस्टी इंटरनेशनल इंडिया के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर आकार पटेल ने देशद्रोह का मामला दर्ज होने पर कहा कि संवैधानिक मूल्यों की हिफाज़त विषय पर कार्यक्रम भी अब अपराध माना जा रहा है. इस कार्यक्रम के लिए पुलिस को भी बुलाया गया था, देशद्रोह का मामला दर्ज होने से साफ़ होता है कि मौलिक अधिकार और अभिव्‍यक्ति की आज़ादी बेमानी है |

बेंगलुरु शहर की जेसी नगर पुलिस ने सोमवार को एमनेस्टी इंटरनेशनल के ख़िलाफ़ आईपीसी की धारा 142, 143, 147, 124A, 153A और 149 के तहत देशद्रोह का मामला दर्ज किया हैं |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here