सुप्रीमकोर्ट के आदेश की अवहेलना- आदेश के बावजूद भी परिवादी को नहीं दिए गए पैसे

0
245

 

supreme court of india

सुलतानपुर – सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद भी पेट्रोल पंप संचालक ने परिवादी को 38 लाख की देनदारी नही चुकता की है। इसी आदेश के अनुपालन के क्रम में सी.जे.एम. विजय कुमार आजाद ने संचालक के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर पुलिस अधीक्षक को उसकी गिरफ्तारी कराते हुए आगामी 3 फरवरी तक अदालत में पेश कराने का आदेश दिया है।

क्या है पूरा मामला-
मामला गोसाईगंज थानाक्षेत्र अन्तर्गत स्थित कटका फिलिंग स्टेशन से जुड़ा है। जिसके संचालक ओम प्रकाश शुक्ला निवासी बहोरी शुक्ल का पुरवा मजरे अमऊ जासरपुर के खिलाफ परिवादी उदय शंकर मिश्र ने देनदारी के संबंध में गंभीर आरोप लगाया है। आरोप के मुताबिक ओम प्रकाश को भारतीय पेट्रोलियम लिमिटेड का डीलर नियुक्त करते हुए पेट्रोल पंप आवंटित किया गया था, जिसे चलाने के लिए उनके पास पैसे नहीं थे तो दोनों पक्षों के बीच में हुए इकरारनामे के आधार पर परिवादी उदयशंकर मिश्र निवासी बेलौली प्रतापपुर ने आर्थिक सहयोग के रूप में 16 लाख व 3.95 लाख रूपये दिये थे, लेकिन कुछ समय बाद दोनों के बीच में अनबन हो गई।

जिसको लेकर ओम प्रकाश शुक्ला ने रूपये वापसी के लिए उदयशंकर को 16 लाख व 3.95 लाख का चेक दिया। जिसे उदयशंकर ने लगाया तो वह बाउंस हो गया। तत्पश्चात वर्ष 2005 में यह मामला अदालत में पहुंचा तो तत्कालीन सीजेएम प्रीती श्रीवास्तव ने 22 सितम्बर 2009 को ओम प्रकाश शुक्ला के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य न मानते हुए दोषमुक्त कर दिया।

उदयशंकर ने सत्र न्यायालय से लेकर हाईकोर्ट तक की शरण ली तब 28 जून 2016 को हाईकोर्ट ने प्रकरण को निस्तारित करते हुए 38 लाख की क्षतिपूर्ति राशि ओम प्रकाश के जरिये उदयशंकर को देने के लिए जिम्मेदार ठहराया। इस आदेश के खिलाफ ओम प्रकाश ने सुप्रीम कोर्ट की शरण ली। सुप्रीम कोर्ट ने बीते 16 अगस्त को थोड़ी राहत देते हुए चार माह के भीतर देनदारी अदा करने के लिए ओम प्रकाश को निर्देशित किया। लेकिन समय सीमा बीत जाने के बावजूद भी उन्होंने परिवादी उदयशंकर को रूपये नहीं दिए।

जिसके क्रम में उदयशंकर के अधिवक्ता की तरफ से अर्जी देकर सीजेएम कोर्ट में ओम प्रकाश के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई। सीजेएम विजय कुमार आजाद ने उच्चतम न्यायालय के आदेश के क्रम में देनदारी की वसूली के लिए ओम प्रकाश के विरूद्ध गैर जमानतीय वारंट जारी कर पुलिस अधीक्षक को उसकी गिरफ्तारी कराते हुए आगामी 3 फरवरी तक हाजिर कराने का निर्देश दिया है।
रिपोर्ट- दीपक मिश्र

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here