कागजों पर विकास की बुलंदियां छू रहा फिरोजपुर कला, पर वास्तविकता में विकास अभी कोसों दूर

0
198

Streets
Streets

चकलवंशी-उन्नाव : वर्ष 2012 /13 का चयनित लोहिया गाम फिरोजपुर कला आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है, कागजों पर तो यहां का विकास पूरा हो गया है, लेकिन जमीनी हकीकत दूसरी कहानी बयां कर रही है | लोगों को पीने का पानी तक नसीब नहीं हो रहा है, नालियां ध्वस्त हो चुकी हैं आवास अधूरे पड़े हैं शौचालय प्रयोग लायक ही नहीं है।

NON working Hand pump
NON working Hand pump

विकास खण्ड सफीपुर क्षेत्र के ग्राम सभा फिरोजपुर कला को वर्ष 2012 /13 में लोहिया गांव के लिए चयनित किया गया था यहां की कुल आबादी 2800 के करीब है | इस गांव सभा के पांच मजरे गुलाब खेड़ा, रूदई खेड़ा, पन्ना खेड़ा, पोले खेड़ा व बकतौरी खेड़ा है गांव सभा व इसके मजरों सहित पूरे क्षेत्र में 39 इंडिया मार्का हैंडपंप लगे हुए हैं जिसमें 22 खराब पड़े हैं । 39 लोहिया आवास जो कि अभी तक पूरे नहीं हुये हैं, 412 शौचालयों में एक भी प्रयोग लायक नहीं है, लोग उसमें उपले रख रहे हैं। गांव की गलियां नाली विहीन हैं और जो नालियां बनी भी हैं उसमें पानी नहीं निकल पाने से नालियां दुर्गन्ध और कचरे का घर बन गयी हैं, और बीमारियों को न्योता दे रही हैं | अधिकाश गलियों में सी. सी. भी नहीं पड़ी है, मार्ग प्रकाश के लिए लगी सौर ऊर्जा स्ट्रीट लाइट बन्द पड़ी हैं । गामीणो में नितिन, मुन्ना, अखिलेश, महेंद्र, लक्ष्मी कांत, नेम सिंह, सुरेन्द्र, रामजीवन, डोरी सहित अन्य ग्रामीणों का कहना है कि जब हमारा गांव लोहिया ग्राम में चयनित किया गया तो लोगों में खुशी का ठिकाना नहीं रहा था | सबको लगा कि अब हमारे गांव में भी विकास होगा लेकिन खाऊँ कमाऊँ नीति के चलते विकास के नाम पर खानापूर्ति ही की गई |

Toilet
Toilet

आज भी गलियों में कीचड़ भरा हुआ है नालियां बजबजा रही है, अधिकतर गलियों में नालियां बनी ही नहीं हैं, आवास से लेकर शौचालय तक में बन्दर बाट किया गया है, जिससे अभी तक कोई भी आवास पूरा नहीं बना है और न ही शौचालय प्रयोग लायक हैं, जांच के नाम पर अधिकारी तो आते थे, लेकिन घूम-टहल कर वापस चले जाते थे। जिस उम्मीद से शासन द्वारा लोहिया गांवों को विकास के लिए चयनित किया गया था वह विकास कहीं नजर नहीं आता है।

रिपोर्ट – अशोक दुबे

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY