DGCA ने सामान पर अलग से चार्ज लगाने का प्रस्ताव ख़ारिज किया

0
122

स्पाइसजेट, इंडिगो और एयर एशिया ने नागरिक उड्डयन महानिदेशालय को एक प्रस्ताव भेजा था जिसमें  कंपनियों ने ‘जीरो बैगेज फेयर’ (बिना सामान का किराया) श्रेणी रखने का विचार रखा था, इसमें उस यात्री को टिकट में छूट देने की बात कही गई थी, जिसके पास किसी तरह का ‘चेक-इन’ सामान नहीं होगा।

Traviller

अधिकारीयों ने कहा “ वर्तमान व्यवस्था के अनुसार यात्री 15 किलो तक सामान बिना कोई अतिरिक्त शुल्क चुकाए अपने साथ ले जा सकता है और यदि हम इस प्रस्ताव को मान लेते हैं तो वर्तमान व्यवस्था पूरी तरह से समाप्त हो जाएगी |

घरेलू एयरलाइन्स कंपनियों द्वारा यात्रा के दौरान यात्रियों के ‘चेक इन’ सामान पर अलग से शुल्क लगाने के प्रस्ताव को नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने यह कहते हुए खारिज कर दिया की इस व्यवस्था को लागू करके हम यात्रियों पर अतिरिक्त बोझ नही डाल सकते |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

fourteen + nineteen =