डग्गामार वाहन राहगीरों के लिए बने मुसीबत

0
118
प्रतीकात्मक

मैनपुरी(ब्यूरो)- नगर में विभिन्न स्थानों से संचालित होने वाले डग्गामार वाहन राहगीरों के लिए मुसीबत बने हुए हैं। इन वाहनों की वजह से अक्सर जाम की समस्या खड़ी हो जाती है। वहीं रोडवेज बसों के आगे वाहन खड़े करने से राजस्व को भी चूना लगाया जाता है। प्रतिदिन हजारों रुपए का चूना रोडवेज को लगाया जाता है। इसके बावजूद इन वाहन चालकों के ऊपर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है। नगर के जीटी रोडए बस स्टाप में रोडवेज बसों के आगे वाहन खड़ा करके मैजिकए निजी बस चालक सवारियां भरते हैं। पुलिस की मौजूदगी के बावजूद डग्गामार वाहन चालक सड़क में अराजकता फैलाते हैं। राधा रमन रोड बाईपास में दिन भर मैजिकए टेम्पोए चार पहिया वाहनों में सवारियां भरकर आगराए इटवा और कानपुर आदि शहरों तक तेज रफ्तार में वाहन दौड़ते हैं।

आगरा एइटवाएवेवर आदि स्थानों से आने वाली सवारियों को बैठाकर उन्हें गंतव्य तक पहुंचाने में वाहन चालक आपस में छीनाझपटी करते हैं। कम पैसों का लालच देकर यात्रियों को असुरक्षित यात्रा कराने में डग्गामार वाहन चालक सड़कों पर बेखौफ होकर फर्राटा भरते रहते हैं। आड़े.तिरछे वाहनों के खड़े होने से अक्सर नगर में जाम की समस्या बन होती है। सड़क से गुजरने वाले मुसाफिरए राहगीर व स्कूली छात्र जाम के चक्कर में रोजाना अपना समय बर्बाद करते हैं। लोगों का कहना है कि पुलिस व प्रशासन के अधिकारी डग्गामार वाहन चालकों पर खास मेहरबानी दिखा रहे हैं। जिसके चलते यह समस्या लाइलाज होती जा रही है मैनपुरी में डग्गामार वाहनों से लगातार हादसे हो रहे हैं। इसके कारण कई लोगों की मौत हो चुकी है। प्रशासन को इन गाड़ियों को बंद करना चाहिए। मगर इस पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। हादसे के बाद मौके पर जुटे लोग यही कह कर हंगामा कर रहे थे। वे लोग डग्गामार वाहनों को बंद करने की मांग करते दिखे।

रिपोर्ट- दीपक मिश्र
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY