बृद्ध पूर्णिमा के अवसर पर निकाली गई धम्म यात्रा, दिया अलख संन्देष

0
89

करहल(मैनपुरी)- युवा सम्यकशील सोसाईटी अॅाफ इण्डिया के तत्वाधान में क्षेत्र के ग्राम नौरमई के पार्थ मैरिज होम में विष्व गुरू भगवान गौतम बुद्ध की 2561वी जयन्ती का आयोजन बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर किया गया। इस दौरान बुद्ध धम्म चेतना यात्रा का भी आयोजन किया गया।

बुद्धि पूर्णिमा के अवसर पर क्षेत्र के ग्राम नैरमई मे आयेाजित की गई जयन्ती के अवसर पर निकली षोभायात्रा बडे ही हर्षोल्लास के साथ निकाली गई। जिसमे षामिल युवाओ ने बुद्धम षरण गच्छामि, धम्मम षरणम गच्छामि, संघम षरणम गच्छामि के नारे लगाते हुये लोग चल रहे थे। कार्यक्रम का षुभारम्भ संस्था के उपाध्यक्ष योगेष प्रताप सिंह बघेल ने भगवान बुद्ध की प्रतिमा के समक्ष द्वीप प्रज्जवलित का किया गया। इस दौरान उन्होने कहा कि भगवान बुद्ध के विचारो से ही विष्व मे षान्ति लाई जा सकती है। उनके द्वारा प्रतिपादित किये गये सिद्धान्त मनुष्य जीवन के लिये बहुत ही उपयेगी है।वाईएसएस के राष्टीय अध्यक्ष जेपी षाक्य ने कहा कि भगवान बुद्ध ने कहा कि दानषील पूजा अर्चना प्रर्थना आज कर्मो के द्वारा संचिंत और अनन्त पूर्ण समूह भी क्रोध के उत्पन्न् होने पर एक क्षण मे नष्ट कर देती है।

उन्होने बताया कि क्रोध के सदृष्य कोई पाप नही होता है और षन्ति से बडा कोई तप नही होता।इस मौके पर गौरब बघेल, डा0 सुरेन्द्र षाक्य, मोन्टी बघेल, जितेन्द्र कुमार, विजय कुमार, गौरव यादव, अमन, रतन, अनुज कुमार, विनय सहित आदि सस्था के पदाधिकारी मौजूद रहे।

रिपोर्ट- दीपक शर्मा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here