आस्था का केन्द्र बना विचित्र पौधा, शिवलिंग मानकर पूजा-अर्चना कर रहे हैं श्रद्धालु

0
132


रायबरेली (ब्यूरो) बछरावां क्षेत्र के ग्राम सभा कुर्री के मजरे रानी खेड़ा में जगदीश पुत्र रामरतन की बाग में मिला एक विचित्र प्रकार का पौधा लोगों की आस्था का केन्द्र बनता जा रहा है। लोग इस पेड़ को शिव की आकृति मान कर रूपयों का चढ़वा चढ़ा रहे है।

लगभग तीन दिन पूर्व जगदीश को अपनी बाग में एक विचित्र प्रकार का पौधा दिखाई पड़ा जिसकी आकृति शिव लिंग के समान थी। उसकी बाहरी पत्तियां भूरे रंग की थी और बीच में पीले रंग का शिव लिंग जैसा आकार नजर आ रहा था। उसने इसकी चर्चा जब गाँव में की तो उसे देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। ग्रामीणों द्वारा उसे शिव प्रतिमा मान कर पूजा अर्चना कि जाने लगी और चढावा चढाया जाने लगा। यह स्थिति देख कर बाग के मालिक द्वारा उस पेड़ के चारों तरफ बांस लगार बेरीकेटिंग कर दी गई और वहीं रात्रि विश्राम के साथ-साथ पुजारी का दायित्व भी निर्वाहन किया जाने लगा। ज्ञात हो कि लगभग तीन दशक पूर्व चुरूवा बाडर के पास एक पीपल के पेड में हनुमान जी की आकृति दिखाई पड़ी थी। चन्द्र दिनों में ही वह पीपल का पेड़ सूख गया परन्तु वह हनुमान जी की आकृति मौजूद रही जिसपर जगन्नाथपुरी की तर्ज पर हनुमान प्रतिमा का निर्माण कर दिया गया। यह स्थान आज दिल्ली दरबार के राजनेताओं से लेकर राजधानी के शियासी गलियारों के साथ-साथ जनता में आस्था का केन्द्र बना हुआ है।

रिपोर्ट – राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here