दिल्ली में पहली बार सफाई को मुद्दा बनाकर कोई पार्टी लड़ रही है चुनाव

0
113
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली- दिल्ली स्वराज इंडिया के ढाई सौ से ज़्यादा उम्मीदवारों ने सोमवार को अंतिम ख़बर आने तक दिल्ली नगर निगम चुनावों के लिए अपना नामांकन भर दिया। ज्ञात हो कि पार्टी ने योग्य उम्मीदवारों के चयन के लिए एक लम्बी प्रक्रिया चलाई जिसमें दिल्ली के लोगों से आवेदन माँगा गया था। त्रिस्तरीय प्रक्रिया के तहत उम्मीदवारों का चयन किया गया है जिसमें युवाओं और महिलाओं को विशेष तरजीह दी गयी है। स्वराज इंडिया की देखा-देखी अन्य सभी स्थापित पार्टियों ने भी उम्मीदवारी के लिए खुले आवेदन माँगने का नाटक किया। युवाओं और महिलाओं को तरजीह देने की बात कही। एक जैसी चयन प्रक्रियाओं की घोषणा की। ये स्पष्ट है कि प्रत्याशियों के चयन प्रक्रिया में स्वराज इंडिया ने एमसीडी चुनाव का एजेंडा सेट किया है।

पार्टी के उम्मीदवारों में डॉक्टर, इंजीनियर, वक़ील, एमबीए, प्रोफेशनल, शिक्षक, समाजसेवी, राजनीतिक कार्यकर्ता, टॉप यूनिवर्सिटी ग्रैजूएट्स, पहली महिला ऐम्ब्युलन्स ड्राइवर, पैरा-ओलम्पियन, स्पोर्ट्स क्षेत्र से लेकर जनलोकपाल आंदोलन के सक्रिय वॉलंटियर्स, ई-रिक्शा चालक, झुग्गी-झोपड़ी की लड़ाई लड़ने वाले और जनता के मुद्दों पर संघर्षरत कई ज़मीनी कार्यकर्ता एवं सिविल सोसाइटी के ऐक्टिविस्ट्स तक शामिल हैं।

वार्ड 22 सैनिक एन्क्लेव के स्वराज इंडिया प्रत्याशी प्रीति केसरी और उनके कुछ महिला समर्थकों पर हमले की भी ख़बर आई। ये घटना तब की है जब अपनी कार में नामांकन से लौट रहे स्वराज इंडिया के प्रत्याशी को कुछ बाईकर्स ने मुकुंदपुर फ्लाईओवर पर रोक कर धमकी दी, तोड़फोड़ की और गाड़ी को क्षति पहुंचाई। इससे पहले भी छावला वार्ड से सर्वेश यादव और कालकाजी से इक़बाल सिद्दीकी जैसे कई स्वराज इंडिया प्रत्याशियों को डराने धमकाने और उनपर हमले की खबरें आ चुकी है। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनुपम ने कहा कि इन गुंडों की कायराना हरकतों से स्वराज इंडिया के उम्मीदवार रुकने या घबराने वाले नहीं है। बल्कि और अधिक जोश, जज़्बे और जूनून से एमसीडी चुनावों में प्रचार करेंगे। हम “साफ़ दिल साफ़ दिल्ली” के लिए प्रतिबद्ध हैं और इन असामाजिक तत्वों के डराने धमकाने से हमारी प्रतिबद्धता और मजबूत ही होगी।

निगम चुनाव के लिए स्वराज इंडिया ने “पर्यावरण और स्वच्छता” को मुख्य चुनावी एजेंडा बनाया है। पहली बार निगम का चुनाव सफ़ाई और स्वच्छता के मुद्दों पर लड़ा जाएगा। पार्टी ने “साफ़ दिल, साफ़ दिल्ली” के नाम से म्यूनिसिपल गवर्नन्स के लिए अपना विज़न डॉक्युमेंट पहले ही जारी कर चुकी है। आने वाले दिनों में स्वराज इंडिया दिल्ली के तीनों नगर निगम के लिए अलग अलग मैनिफ़ेस्टो भी जारी करने वाली है।

निगम चुनावों के लिए स्वराज इंडिया सिर्फ एक वादा कर रही है कि दिल्ली को साफ़ करेंगे। दिल्ली को कचरा, महामारी और प्रदूषण से मुक्त करेंगे। पार्टी का नारा है – “साफ़ दिल, साफ़ दिल्ली”।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY