दिल्ली वालों के निर्देश पर ली गयी थी मेरी तलाशी – सीएम रावत

0
157

Harish Rawat meets Sonia Gandhi

देहरादून (ब्यूरो)- मुख्यमंत्री हरीश रावत को शुक्रवार सुबह नैनीताल से कांग्रेस प्रत्याशी सरिता आर्या के समर्थन में जनसभा करने जाना था। उनका हेलीकॉप्टर नैनीताल रोड स्थित इंस्प्रेशन स्कूल में था। इस बीच सुबह साढ़े नौ बजे चुनाव आयोग के व्यय पर्यवेक्षक संजय तिवारी के नेतृत्व में टीम ने हेलीकॉप्टर की तलाशी ली। सीएम रावत ने  मुख्य चुनाव आयुक्त पर बड़ी संजीदगी से अपनी आपत्ति की है। उन्होने कहा कि प्रदेश में चुनाव आचार सहिंता लगने के बाद से लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह स्वंय अपने हैलिकाप्टर से भाजपा उम्मीदवारों को धन बांट रहे है व दर्जनों केन्द्रीय मंत्री चुनाव प्रचार में सत्ता का दु्रपयोग कर रहे है।

उन्होंने आगे कहा कि, ‘मैं देखूंगा, प्रधानमंत्री के हेलीकॉप्टर की भी तलाशी ली जाती है या नहीं।’ मुस्कुराते हुए लेकिन कुछ तल्ख अंदाज में मुख्यमंत्री हरीश रावत ने यह बात तब कही, जब हल्द्वानी में शुक्रवार को चुनाव आयोग की टीम उनके हेलीकॉप्टर की तलाशी लेने पहुंची।

यहां तक कि प्रचार के दौरान हैलिकाप्टर व वाहनों से लगातार आ जा रहे है और भाजपा के उम्मीदवारों को धन भी उपलब्ध कराया जा रहा है आश्चर्य है मात्र मेरी ही तलाशी अभी तक ली गई है, प्रदेश में चुनाव प्रचार के लिए आ रहे केन्द्रीय मंत्रियों व भाजपा नेताओं को क्यों विशेष छूट दी गई है, निष्पक्ष व स्वतंत्र चुनाव के लिए सभी के साथ एक जैसा व्यवहार किया जाना आवश्यक है।

हरीश रावत ने पीएम मोदी और अमित शाह पर हमला बोलते हुए कहा कि, केन्द्र सरकार के प्रभाव व दिल्ली वालों के निर्देश पर ही मेरी तलाशी ली गई है। उन्होने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा इस छोटे से राज्य के चुनाव में अब तक दो हजार करोड़ रुपया खर्च कर चुकी है, धन-बल खर्च कर लोकंतत्र को कंलकित किया जा रहा है। वहीं उन्होने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा की केन्द्र सरकार ने अड़ानी व अन्य पूंज्यपतियों को उत्तराखण्ड़ के हाईड्रो प्रोजेक्टस सौंपने का सौदा कर लिया है, चुनाव में खर्च होने वाला धन भी उन्ही घरानों से आ रहा है।
रिपोर्ट- मोहम्मद शादाब
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here