मांगों के समर्थन में डिप्लोमा फार्मासिस्ट ने काली पट्टी बांध किया प्रदर्शन

0
60


रतसर/बलिया : लम्बित मांगों को लेकर डिप्लोमा फार्मासिस्ट एसोसिएशन ने मंगलवार को प्रा. स्वा. केन्द्र रतसर पर बांह में काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन कर सभा की। इस अवसर पर एसोसिएशन के सक्रिय सदस्य अरुण कुमार शर्मा ने प्रदेश सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सरकार ने शीघ्र मांगो पर विचार नही किया तो संघ अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने को विवश होगें। इस दौरान उन्होंने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

राकेश सिंह ने कहा कि तीन दिन बांह में काली पट्टी बांधकर विरोध जताया जा रहा है फिर भी मांगों पर विचार नही हुआ तो छह- सात दिसम्बर को दो घंटे कार्य का बहिष्कार किया जाएगा। आठ दिसम्बर को द्वितीय शनिवार का सामुहिक उपभोग और दस दिसम्बर से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने का निर्णय किया गया है। धरने का नेतृत्व कर रहे सुरेन्द्र प्रसाद ने बताया कि रिपोर्ट करीब डेढ वर्ष से शासन में लम्बित है। भत्तों का वर्षो से पुनरीक्षण नही हुआ। महानिदेशालय के प्रस्ताव के बाद भी संवर्ग के पदों का पुनर्गठन नही हो रहा, कार्य और आवश्यकता के मुताबिक मानक नही बन रहे। पदों का सृजन लम्बित है। उच्च पदों का सृजन नही हो रहा है जिससे पद्दोन्नति नही हो पा रही है। नियुक्ति प्रक्रिया बाधित है। फार्मासिस्ट के लगभग पांच सौ से अधिक पद खाली है जबकि फार्मासिस्ट रोजगार की तलाश में भटक रहे है। प्रदर्शन करने वालो में पंकज कुमार, जितेन्द्र सिंह, प्रमोद कुमार आदि शामिल रहे।

रिपोर्ट – धनेश पाण्डेय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here