कोर्ट के आदेश की अवहेलना थानेदार को पड़ी महंगी, अब कटेगा वेतन

0
48

दलसिंहसराय:समस्तीपुर(ब्यूरो)- स्थानीय व्यवहार न्यायालय के एसडीजेएम विवेक विशाल ने उजियारपुर थानाध्यक्ष मधुरेन्द्र किशोर के वेतन से एक हजार रुपये काटने का आदेश डीडीओ को दिया है| जानकारी के अनुसार उजियारपुर के रामभरोस राय ने एसीजेएम के न्यायालय में अभियोग पत्र संख्या 278/14 दायर करते हुए राम विशेक राय एवं अन्य के खिलाफ गंभीर आरोप लगाया था|

मामले की गंभीरता को देखते हुए न्यायालय ने सीआरपीसीकी धारा 156 (3) के तहत उजियारपुर थानाध्यक्ष को प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया था| लेकिन घटना के तीन साल बाद भी एसएचओ नें प्राथमिकी दर्ज नहीं की|

एक ओर जहां कोर्ट के आदेश का समय पालन नहीं किया गया| वहीं पीड़ित न्यायार्थी को न्याय नहीं मिल सका| कोर्ट ने कई बार एफआईआर दर्ज करने हेतु स्मार पत्र भी वरीय पुलिस़ पदाधिकारी के माध्यम से भेजा| बाबजूद जब तीन साल बाद भी घटना को लेकर एफआईआर दर्ज नहीं की गई| तब जाकर कोर्ट ने उजियारपुर थानाध्यक्ष को गत दिनांक 24 जून 2017 को दो दिनों के अंदर न्यायालय में सदेह उपस्थित होकर इस संबंध में स्पष्टीकरण देने का आदेश दिया|

लेकिन 5 दिन बाद भी जब एसएचओ श्री किशोर ने उपस्थित होकर जबाब नही दिया| तब जाकर एसडीजेएम ने धारा 309 के तहत करवाई करते हुए एसएचओ उजियारपुर मधुरेन्द्र किशोर के वेतन से एक हजार रुपये काटने का आदेश डीडीओ को दिया है| साथ ही आदेश की प्रति एसडीपीओए, एसपी समेत जिला जज समस्तीपुर को भी उपलब्ध कराते हुए कोर्ट ने डीडीओ को निर्देश दिया है कि वेतन काटने से संबंधित प्रतिवेदन इस न्यायालय को भी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें|

रिपोर्ट-रंजीत कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY