पूरे दिन रही गायत्री प्रजापति के आत्मसमर्पण की चर्चा

0
126

सुल्तानपुर(ब्यूरो)– गैंगरेप आरोप में फंसे सूबे के कैबिनेट मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति के जरिये अदालत में आत्म समर्पण करने की चर्चाएं मंगलवार को दिनभर लखनऊ जिला न्यायालय से लेकर सुल्तानपुर जिला न्यायालय तक गूंजती रही, फिलहाल मंगलवार को पूरा दिन बीते जाने के बाद भी ऐसी कोई सूचना सामने नही आयी। जानकारी के मुताबिक गायत्री प्रजापति की तरफ से जिला न्यायालय लखनऊ में आत्मसमर्पण की अर्जी पड़ी है, लेकिन उन्होंने वहां भी अभी आत्मसमर्पण नही किया है। सूत्रों की माने तो आत्मसमर्पण की अर्जी भले ही लखनऊ में पड़ी हो लेकिन गायत्री प्रजापति सुल्तानपुर जिला न्यायालय मे चल रहे अन्य मामलो में भी आज-कल में आत्म समर्पण कर सकते है।

मालूम हो कि गायत्री प्रजापति के खिलाफ पिछले विधान सभा चुनाव के दौरान अमेठी थाने में आचार संहिता के उल्लंघन सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था, जिसमे उनके विरुद्ध आरोप पत्र भी दाखिल हुआ है और इस मामले में उनके खिलाफ जमानतीय वारंट भी न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत से जारी किया गया है, जानकारी के मुताबिक गायत्री प्रजापति इस आचार संहिता के उल्लंघन मामले या अन्य मामलो के माध्यम से अपने जिला न्यायालय में आत्मसमर्पण जल्द ही कर सकते है, जिसकी चर्चाए तेज हो गई है, विधिक जानकारों की मानें तो यदि गायत्री प्रजापति सुल्तानपुर में आत्मसमर्पण करते है तो वे अन्यत्र कहीं जेल शिफ्टिंग आदेश न होने एवं यहां से जुड़े प्रकरण में जमानत अर्जी न पड़ने व जमानत मंजूर न होने तक जिला कारागार सुल्तानपुर में ही निरुद्ध रहेंगे, सिर्फ उन पर लगे गैंगरेप आरोप मामले में पुलिस की अर्जी पर जिला न्यायालय लखनऊ के आदेश पर उन्हें न्यायिक रिमांड के लिए लखनऊ न्यायालय में सुल्तानपुर जेल से तलब किया जा सकता है और न्यायिक रिमांड स्वीकृत होने के बाद उन्हें पुनः सुल्तानपुर की ही जेल में दाखिल किया जा सकता है।

सूत्रों की माने तो अपने सलाहकारों की सलाह पर गायत्री प्रजापति इसी फिराक में लगे हुए है, ऐसे में अपने ही जिले की जेल में रहने की चाहत गायत्री प्रसाद प्रजापति को सुल्तानपुर जिला न्यायालय में आत्मसमर्पण करा सकती है, जिसकी संभावनाएं तेज हो गई है।

रिपोर्ट- दीपक मिश्रा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY