भगवान बुद्ध की प्रतिमा के खण्डित होने पर रोष

0
102

करहल/मैनपुरी(ब्यूरो)- विष्व मे षान्ति अहिन्सा का संदेष देने वाले विष्व गुरू भागवान गौतम बुद्ध की प्रतिमा को प्रदेष की राजधानी लखनउ मे परविर्तन चैक स्थित अराजक तत्वो ने भगवान बुद्ध की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया। जिसके विरोध मे युवा सम्यकषील सोसाईटी के पदाधिकारियो ने कडी निन्दा की है और दोषियो के विरूद्ध कडी कार्यवाही की माग करते हुये सूबे के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ को एक ज्ञापन भेजकर अन्य बुद्ध प्रतिमा की सुरक्षा की माग की है।

कार्यकर्तायो ने चेतावनी देते हुये कहा कि अगर दोषियो के विरूद्ध कडी कार्यवाही नही हुयी तो षीघ्र ही इसके खिलाफ आन्दोलन किया जायेगा। युवा सम्यक षील सोसाईटी के नौरमई स्थित कार्यालय पर वाई एसएस के पदाधिकारियो ने प्रदेष की राजधानी लखनउ मे लगी भगवान बौद्ध की प्रतिमा को अराजक तत्वो ने क्षति ग्रस्त कर दिया। इसके विरोध मे वाई एसएस के राष्टीय अध्यक्ष जेपी षाक्य ने कहा कि परिवर्तन चैक पर लगी भगवान बौद्ध की प्रतिमा के खण्डित करने के दोषियो और अन्य महापुरूषो की प्रतिमा की सुरक्षा की माग की है। और योगी सरकार ने ऐसा नही किया तो षीघ्र ही प्रदेष के सभी जिलो मे सोसाईटी जनआन्दोलन करेगी।

इस मौके पर सोसाईटी के पदाधिकारी डा0 आर्दष गुप्ता, डा0 सुरेन्द्र सिंह, गौरब वघेल, रोहताष वघेल, राजीव कुषवाह, जितेन्द्र वघेल, पवन कुमार षाक्य, गौरव यादव, ब्रम्हानन्द कठेरिया, मुकेष जाटव, अमित राजपूत, राधेष्याम वर्मा, पुष्पेन्द्र वर्मा, महेष अग्रवाल, विजय कुमार षाक्य, मनोज राठौर सहित आदि तमाम सैकडो कार्यकर्ता व लोग मौजूद रहे।

रिपोर्ट- दीपक शर्मा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY