भारी बारिश की चेतावनी से जिला प्रशासन अलर्ट

0
176

बहराइच (ब्यूरो) तराई में देर से ही सही, लेकिन मानसून मेहरबान है। मानसून की सक्रियता से किसानों के चेहरे खिले हैं। खेत धान की रोपाई से गुलजार हो रहे हैं। 24 घंटे में 50 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। गुरुवार को भी दिनभर रुक-रुक कर फुहारे पड़ती रहीं। 48 घंटे के अंदर भारी बारिश की चेतावनी के मद्देनजर जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। सभी एसडीएम सतर्क कर दिए गए हैं। बाढ़ प्रभावित इलाकों में चौकियों को भी सक्रिय कर दिया गया है। लगभग एक सप्ताह से तराई में बादलों की मेहरबानी जारी है। गुरूवार को भी पूरे दिन जिले में रूक-रूककर बारिश होती रही।

फसल अनुसंधान केंद्र के अनुसार 24 घंटे में 50 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। दिन का अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस के करीब रिकार्ड किया गया। बुधवार रात से ही फुहारें गिरने का दौर जारी रहा। सुबह के समय बादल छाए हुए थे। शहर में मौसम साफ होने पर कुछ देर धूप भी निकली। इससे उमस में बढ़ोत्तरी महसूस की गई। दोपहर बाद से बादल फिर घिर आए। बारिश से मौसम सुहावना बना रहा। ग्रामीण क्षेत्रों में भी दोपहर बाद कई स्थानों पर तेज बारिश हुई1महसी संवादसूत्र के महराजगंज, महसी, सिकंदरपुर, भगवानपुर, रमुवापुर, राजी चौराहा, जोत चांदपारा, कोटिया, नयापुरवा आदि जगहों पर आधे घंटे तक झमाझाम बारिश हुई। शाम तक आसमान में काले बादल छाये रहे। फारपुर, गजाधरपुर, कैसरगंज, जरवल समेत अन्य स्थानों पर शाम के समय अच्छी बारिश हुई। कैसरगंज संवादसूत्र के अनुसार क्षेत्र में किसान बारिश से काफी खुश नजर आ रहे है। खेतों में धान की रोपाई का काम तेज हो गया है। 1जलभराव से बढ़ी परेशानी 1एक सप्ताह से रूक-रूककर हो रही बरसात से निचले स्थानों पर जलभराव होने से समस्या बढ़ती जा रही है। शहर के बहराइच-गोंडा मार्ग पर एचडीएफसी बैंक के पास सड़क तालाब में तब्दील हो गयी है। जिला अस्पताल, घसियारीपुरा, केडीसी के सामने, रोडवेज, समेत अन्य जगहों जलभराव की समस्या से लोगो को असुविधा उठानी पड़ रही है।

रिपोर्ट – राकेश मौर्या

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY