जिलाधिकारी ने किया ब्लाॅक कार्यालय का औचक निरीक्षण

0
64

जालौन(ब्यूरो)- जिलाधिकारी ने ब्लाॅक कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। जिसमें दो कर्मचारी अनुपस्थित पाए जाने पर उनके वेतन रोकने का आदेश जारी किया। प्रत्येक पटल का बारी-बारी से निरीक्षण किया। सारे दस्तावेजों को खंगालने के बाद सफाई व्यवस्था को भी देखा।

जिलाधिकारी नरेंद्र शंकर पांडेय ने ब्लाॅक कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। कार्यालय में अचानक पहुंचे डीएम से कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। सभी के हाथ पैर फूलने लगे। सर्वप्रथम उन्होंने उपस्थिति रजिस्टर देखा। जिसमें प्रत्येक कर्मचारी के नाम पुकारकर उन्होंने स्वयं हाजिरी देखी। इस दौरान आरईएस के जेई एवं एडीओ कोआॅपरेटिव राघवेंद्र शर्मा उपस्थित नहीं मिले। उपस्थिति रजिस्टर में हाजिरी अंकित होने एवं मौके पर उपस्थित न मिलने पर उन्होंने इस संबंध में गहनता से पूछताछ की। बताया गया कि दोनों लोग सरकारी कार्य के लिए फील्ड में गए हुए हैं।

इस पर उन्होंने निर्देश दिया कि फील्ड में जाने का समय 12 बजे के बाद है। इससे पहले 9 से 11 बजे तक सभी कर्मचारी अपने, अपने कार्यालय में जनता की समस्याओं को सुनेंगे। इसके लिए उन्हें नोटिस जारी किया जाएगा एवं उनका वेतन रोका जाएगा। इसके उपरांत उन्होंने ब्लाॅक कार्यालय में साफ सफाई व्यवस्था देखी। साफ सफाई के बाद उन्होंने ब्लाक कार्यालय के सभी पटलों का बारी-बारी से निरीक्षण किया। समाज कल्याण अधिकारी रामाधार, कैशियर जेपी गुबरेले, इशरत अली, गौरव श्रीवास्तव, कुलदीप, संतराम, रमाशंकर प्रजापति, एडीओ पंचायत अधिकारी से उन्होंने दस्तावेजों को मंगवाकर बारीकी से देखा। ब्लाॅक कार्यालय के कार्याें में संतोष जनक होने की पुष्टि की गई। डीएम द्वारा जब कार्यालय का निरीक्षण किया गया, उस समय तक सभी कर्मचारियों में हड़कंप मचा रहा।

रिपोर्ट- अनुराग श्रीवास्तव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY