जिलाधिकारी ने सोनबरसा सीएचसी, जीआईसी का किया औचक निरीक्षण, कमियों को दूर करने के दिये निर्देश

बलिया (ब्यूरो)- जिलाधिकारी सुरेंद्र विक्रम ने सोनबरसा सीएचसी के औचक निरीक्षण के दौरान दवा स्टोर रूम, ओटी रूम, लैब व वार्ड आदि का जायजा लिया। सीएचसी प्रभारी डॉ. एके सिंह को निर्देश दिया कि जो भी संसाधन है उन्हीं को बेहतर बनाये रखें। पैथालाजी व ओटी की व्यवस्था ठीक रहे। समय से अस्पताल कर्मियों की उपस्थिति व ईमानदारी से दायित्व निर्वहन सुनिश्चित किया जाए तो आम जनता को काफी राहत मिलेगी। बाढ़ के दृष्टिगत हर जरूरी दवाओं को उपलब्ध रखने का निर्देश दिया।

मुख्य तहसील दिवस पर समय से पहले ही बैरिया पहुंचे जिलाधिकारी ने अचानक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की तरफ रूख कर दिया। अस्पताल के बाहर एएनएम सेंटर के बारे में पूछताछ की साथ ही निर्देश दिया कि यहां डिलीवरी न कराकर अस्पताल में ही कराया जाए। जिलाधिकारी दवा स्टोर रूम में गये और जीवनरक्षक दवाओं की उपलब्धता के बावत पूछताछ की। वहां रखे कम्प्यूटर में दवा का स्टॉक की जानकारी मांगी तो वहां दो साल से तैनात चीफ फार्माशिष्ट एसएस गुप्ता को इसके बारे में जानकरी ही नही थी। इस पर जिलाधिकारी ने फटकार लगाते हुए सुधार लाने को कहा।

आंखों की जांच करने वाले कक्ष में गये तो वहां अक्षर ज्ञान का बोर्ड ही जर्जर था। पूछताछ के दौरान पता चला कि जांच सम्बन्धी जरूरी सामान आई टेक्निशियन हीरा सिंह अपने कमरे पर रखे थे। इस पर नाराज जिलाधिकारी ने सीएचसी प्रभारी को भी फटकार लगाई। प्रयोगशाला में गये तो वहां बल्ब जैसी छोटी चीज भी नही लगी मिली।

लैब असिस्टैंट शिवचरन वर्मा से स्लाईड लगवाकर टेस्ट किया। ऑपरेशन थियेटर के बाहर प्रतीक्षालय में लाईट व पंखा लगवाने का निर्देश दिया। ओटी में लगी मशीनों को चालू कराकर भी देखा | सीएचसी प्रभारी को निर्देश दिया कि जांच आदि ठीक ढ़ंग से हो। मुलभूत संसाधन व स्टॉफ की कमी है जिसे पूरा करने का पूरा प्रयास होगा।

पशु चिकित्सालय का लिया जायजा
जिलाधिकारी सोनबरसा सीएचसी के निरीक्षण के बाद पशु चिकित्सालय का भी जायजा लिया। उन्होंने कर्मियों से जरूरी पूछताछ की। कहा कि बाढ़ के दृष्टिगत तैयारी पहले से ही रखें। पशुओं के स्वास्थ्य सम्बन्धी बातें जनता को बतायें। इस दौरान अस्पताल परिसर में जमी घास-फूस को साफ कराने का निर्देश दिया।

निर्माणाधीन जीजीआईसी का किया निरीक्षण-
जिलाधिकारी सुरेंद्र विक्रम ने बैरिया के सोनबरसा में बन रहे राजकीय बालिका इंटर कालेज का निरीक्षण किया। निर्माण धीमी प्रगति पर जिलाधिकारी ने उपस्थित ठेकेदार को तेजी लाने का निर्देश दिया। साथ ही कहा कि कार्य में गुणवत्ता विशेष ख्याल रहे। क्लास रूप में क्रास वेंटिलेशन के लिए रोशनदान नही होने पर भी आपत्ति जताई। कहा कि हरहाल में रोशनदान लगवाया जाए।

निर्माणाधीन जीजीआईसी के चारों तरफ जाकर जिलाधिकारी ने कार्य की प्रगति को देखा। निर्माण में प्रयोग हो रही ईंट पर संदेह होने पर जांच के लिए दो-चार ईंट साथ ही लेते गये। निरीक्षण के दौरान प्रभारी डीआईओएस अतुल तिवारी, अर्थ एवं संख्याधिकारी बब्बन मौर्य साथ रहे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY