जिलाधिकारी ने किया कानूनगो को निलंबित

0
43

वाराणसी(ब्यूरो)- जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र ने विकास खंड बड़ागांव के ग्राम सभा कुआर में जय प्रकाश जायसवाल के जमीन की पैमाइश किए जाने का प्रकरण आदेश के बावजूद लंबित रखने तथा पैमाइश के लिए शिकायतकर्ता से सुविधा शुल्क की मांग किए जाने की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए कानूनगो जय प्रकाश को निलंबित कर दिया। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं कि जन समस्याओं के निस्तारण में किसी भी स्तर पर हीलाहवाली बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने शिकायतकर्ताओं सहित जनसामान्य से मधुर संबंध स्थापित किए जाने हेतु भी अधिकारियों को विशेष निर्देश दिया ताकि जनसामान्य अपनी समस्याओं के संबंध में अधिकारियों और कर्मचारियों से बेबाक तरीके से अवगत करा सकें। उन्होंने तहसील दिवस पर प्राप्त होने वाले शिकायती पत्रों का निस्तारण गुणवत्ता के साथ प्रत्येक दशा में एक सप्ताह के अन्दर सुनिश्चित किये जाने पर विशेष जोर देते हुए अधिकारियों को किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरतने की हिदायत दी।

जिलाधिकारी ने कहा कि शिकायती पत्रों के निस्तारण की गुणवत्ता में कमी अथवा खानापूर्ति मिलने पर जिम्मेदार अधिकारी/कर्मचारी बख्से नही जायेगें। आईजीआरएस पोर्टल से प्राप्त होने शिकायती पत्रों के निस्तारण की समीक्षा के दौरान विभागीय स्तर पर लम्बित प्रार्थना पत्रों का अभियान चलाकर निस्तारण पर जोर देते हुए कहा कि इसकी समीक्षा स्वयं मुख्यमंत्री द्वारा किया जा रहा है। इसलिये विभागीय अधिकारी इसे पूरी संवेदनशीलता के साथ ले तथा प्राप्त शिकायती पत्रों का निस्तारण प्रत्येक दशा में प्राथमिकता पर सुनिश्चित कराये।

जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र मंगलवार को तहसील समाधान दिवस के मौके पिण्डरा तहसील पर जनसमस्याओं का निस्तारण कर रहे थे। उन्होने निस्तारण के दौरान दोनो पक्षो से वार्ता आदि अवश्य किये जाने पर जोर दिया तथा निर्देशित किया कि शिकायतों के निस्तारण की गुणवत्ता भी अवश्य जॉची जाय। उन्होने कड़े निर्देश देते हुए कहा कि तहसील दिवस पर प्राप्त शिकायती पत्रों का निस्तारण समय एवं गुणवत्ता के साथ किये जायेगे तो शिकायतकर्ताओं को बिना वजह जिला मुख्यालयों का चक्कर नही काटना पड़ेगा। उन्होंने आज तहसील समाधान दिवस के अवसर पर पूर्व में निस्तारित 10 प्रार्थना पत्रों के गुणवत्ता की जांच राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों की टीम बनाकर कराए जाने का भी उपजिलाधिकारी को निर्देश दिया।

तहसील दिवस के मौके पर मंगलवार को तहसील सदर पर 86, पिण्डरा पर 137 एवं राजरालाब पर 109 सहित कुल 332 प्राप्त शिकायती पत्रों में से तहसील सदर पर 11, पिण्डरा पर 05 एवं राजातालाब पर 07 सहित कुल-23 शिकायती प्रार्थना पत्रों का मौके पर निस्तारण किया गया। शेष प्रार्थना पत्रों को विभागीय अधिकारियों को उपलब्ध कराते हुए एक सप्ताह के अन्दर निस्तारण करने का निर्देश दिया।

तहसील दिवस के मौके पर सदर में एसएसपी आर के भारद्वाज, मुख्य विकास अधिकारी सुनील कुमार वर्मा, अपर जिलाधिकारी प्रशासन मुनीन्द्र नाथ उपाध्याय, उप जिलाधिकारी, सदर तहसील पर उपजिलाधिकारी सुशील कुमार गौड़ सहित तीनों तहसील मुख्यालयों पर पुलिस, विद्युत, जलनिगम, स्वास्थ्य, लोक निर्माण विभाग, पंचायत आदि अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहें।

रिपोर्ट- रविंद्रनाथ सिंह

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY