दियारे को बनाएंगे औद्योगिक खेती का हब

0
85


बलिया (ब्यूरो) : भूमि सुधार निगम के निदेशक अजय यादव ने उमरपुर दयारे के निरीक्षण के बाद कहा कि अगर इस क्षेत्र को खेती के रूप में विकसित कर दिया जाए तो इसके विकास में अधिकतम 2 करोर का खर्चा आएगा, लेकिन इससे प्रतिवर्ष 28 करोड रुपए का इनकम किया जा सकता है।

यहां औद्योगिक खेती की स्थापना के बाद हजारों लोगों को त्वरित रुप से रोजगार उपलब्ध हो सकेगा। दियारा क्षेत्र को देखकर हमको सकते हैं यहां बिना रासायनिक खाद के प्रयोग किए हुए जैविक विधि से अच्छी नस्ल की फसलें उगाई जा सकती हैं। यहाँ बीज शोधन एंव निर्माण का कार्य औद्योगिक रूप ले सकता है। अभी दशवे हिस्से मे खेती हो रही है। सारी भूमि अगर खेती योग्य बन गयी तो यह इलाके के विकास मे मील का पत्थर साबित होगा ।

रिपोर्ट-सन्तोष कुमार शर्मा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY