डीएम ने सांसद आदर्श गाँव में लगाई चौपाल, खुले में शौच से मुक्ति का दिलाया संकल्प

0
165


भदोही ब्यूरो : जिले के सुरियावॉ ब्लाक में सांसद द्वारा चयनित आदर्श ग्राम कैड़ा में जिलाधिकारी सुरेश कुमार सिंह ने प्राथमिक विद्यालय परिसर में चौपाल लगाई । सम्बन्धित विभागो के अधिकारियो को निर्देश दिया है, कि वे अपने-अपने विभागो के योजनाओ से पात्र लाभार्थियो को लाभान्वित कराये, इस अवसर पर जिलाधिकारी ने ग्रामीणो से विभागवार/लाभार्थीवार रूबरू होकर उन्हे मिल रहे सुविधाओ पर संतोष व्यक्त किया।

जिलाधिकारी ने समाज कल्याण विभाग की समीक्षा के दौरान स्वतः रोजगार योजना में भौतिक लक्ष्य 5 बताने संतुष्ट न होने पर जिला समाज कल्याण अधिकारी को कड़ी हिदायत दी की सर्वे रिपोर्ट दो दिन के भीतर उपलब्ध कराये। साथ ही साथ नवीन निराश्रित पेंशन भौतिक लक्ष्य 9, विकलांग पेंशन 6, वृद्धापेंशन 15 को भी सही सर्वे कराकर सम्बन्धित अधिकारी उपलब्ध कराये। कोई भी दिव्यांग/पात्र व्यक्ति पेंशन से नही छुटना चाहिए दिव्यागों को मेडिकल कराने के लिए कैम्प शिविर का आयोजन कराये जाने के लिए सी0एम0ओ0 को निर्देश दिया। जिससे पात्र लाभार्थी लाभान्वित हो सके। कृषि विभाग समीक्षा के दौरान उप कृषि निदेशक को निर्देश दिया कि कृषि विभाग के सम्बन्धित किसान गोष्ठी कराये, किसानो को बताया कि पंजीकरण करा ले, जो भी खाद्य, बीज, कृषि केन्द्र से खरीदेगे, उसका पूरा दाम देकर खरीदनी पडे़गी सब्सीडी का पैसा आपके खाते में भेज दिया जायेगा। जैविक खेती तथा कृषि जमीनों का ग्रीड के आधार पर मृदा परीक्षण कर स्वास्थ्य कार्ड जारी करे। किसान क्रेडिट कार्ड का भौतिक लक्ष्य 25 के सापेक्ष अधिक करने हेतु कैम्प लगाने का भी निर्देश दिया। इसके साथ गॉव में फार्म स्कूल की स्थापना करे, जिससे किसानों को नये-नये तकनीक की जानकारी मिल सके। ताकि किसान लाभान्वित हो सके। जिलाधिकारी ने जल निगम विभाग की समीक्षा के दौरान सर्वे कार्ड रिर्पोट सही ने होने पर जल निगम के जे0ई0 को कड़ी कार्यवाही करने का निर्देश दिये। इसके साथ ही प्राथमिक विद्यालय में एम0डी0एम0 निःशुल्क पाठ्य पुस्तक नामांकित छात्र/छात्राओं की संख्या उपलब्ध कराने का निर्देश खण्ड शिक्षा अधिकारी जंगीलाल मौर्य को दिया। इसके साथ ही सी0डी0मनरेगा को तालाब की खोदाई के लिए कार्य योजना बनाकर खोदाई कराये, तथा एस0डी0एम0 को निर्देश दिया कि तालाबों का मत्स्य पालन हेतु आवंटित करे।

इस अवसर पर अग्रणी जिला प्रबन्धक ने ग्रामीणो को कैश-लेश ट्रान्सजेशन के बारे में जानकारी दी। यूनियन बैंक द्वारा बेरोजगार शिक्षित युवको को आर0सी0टी0 के माध्यम से प्रशिक्षण दिलाया जायेगा। चलते फिरते माईक्रो ए0टी0एम0 मशीन द्वारा विभिन्न पेंशनरों को कैम्प लगाकर पेंशन योजनाओं का लाभ दिया जायेगा। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी, ग्राम पंचायत अधिकारी को निर्देश दिया कि सभी पेंशनरो के बैंक खातों से आधार कार्ड को एक सप्ताह के अन्दर लिंक कराये।

इस अवसर पर परियोजना निदेशक तेज प्रताप मिश्र ने स्वयं सहायता समूह के गठन के बारे में बताया कि 2011 के सामाजिक आर्थिक गणना से इस ग्राम में 92 परिवार इस श्रेणी में आते है, जो समूह बनाकर इस योजना का लाभ ले सकते है। जिस पर जिलाधिकारी ने ग्राम में 9 स्वयं सहायता समूह बनाने का निर्देश सम्बन्धित अधिकारी को दिया। जिससे स्वयं सहायता समूह में चयनित महिलाओं का आर0सी0टी0के माध्यम से प्रशिक्षण दिया जायेगा। एक समूह में 10 से 12 सदस्य होते है। बैंक से समूह का खाता लिंकेज कराकर अनुदान तीन किस्तों में एक-एक लाख रूपयें दिया जाता है। इस अवसर पर ग्रामीणों ने  खेल-कूद मैदान न होनी की शिकायत की जिस पर जिलाधिकारी ने एस0डी0एम0 भदोही को निर्देश दिया कि ग्राम में खेल के मैदान हेतु जमीन आवंटन कराये। जिलाधिकारी ने युवक मंगल दल का गठन कराने के लिए जिला युवा कल्याण अधिकारी करे निर्देश दिया। तथा खेल-कूद के समान हेतु 10 हजार रूपये पंचायत निधि से युवा कल्याण विभाग को उपलब्ध कराये। इसके साथ ही लाइब्रेरी हेतु 20 हजार रूपये ग्राम पंचायत निधि से देने का निर्देश सम्बन्धित अधिकारी को दिया। जिसका शुभारम्भ 1 मई 2017 को किया जायेगा।

ग्रामीणों ने बिजली की समस्या से अवगत कराया जिस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता विद्युत को निर्देश दिया कि विद्युत सम्बन्धित समस्याओं का निराकरण प्राथमिकता पर कराये। रोस्टर के अनुरूप विद्युत आपूर्ति कराये। इस अवसर जिलाधिकारी ने ग्रामीणो को स्वास्थ्य मिशन स्वच्छता पर नसीहत देते हुए कहा कि आदर्श ग्राम कैड़ा को खुले में शौच मुक्त करने के लिए हम सबको संकल्प लेना है, उन्होने कहा कि जहॉ सोच है वहॉ शौचालय है, यह भी कहे कि खूूले में शौच न करने के लिए मुहिम चलायी जा रही है, कि दूषित पानी व खाद्यय पदार्थो का सेवन करने से पेट में कीड़े तथा अन्य शारीरिक एवं गम्भीर बिमारिया उत्पन्न होती है। जिससे मानक का अर्थ व्यवस्था गड़बडा जाने से दवाईयों पर खर्च हो जाता है। उन्होने कहा कि बच्चो को डायरिया ज्यादातर गन्दगी के कारण हो जाती है। यह भी कहे की ग्रामीण जन धार्मिक होने के कारण गंगा के किनारे गंगा को प्रदूषित होने से बचाये, तथा खूले में शौच न करने/कराने का संकल्प ले, इस अवसर पर जिलाधिकारी ने पुरे ग्रामीणो से खूले में शौच न करने के लिए शपथ दिलवायी है। उन्होने कहा कि इस अभियान की सफलता के लिए हम सभी लोगो को बढ़ चढ़ कर भागिदारी निभानी चाहिए, यह भी कहे कि पहले स्वयं जागरूक बनकर लोगो को प्रेरित करे, तभी अभियान में सफलता मिल सकती है। यह भी कहे कि गन्दगी से अन्य प्रकार की बिमारिया होती है। साथ ही डीएम ने ग्राम सभा में तैनात आशा, ए0एन0एम0, कोटेदार, आगनबाड़ी कार्यकत्री तथा प्रधान को भी निर्देश दिया है कि वे अपने कार्य के आलावा इस अभियान में रूचि लेकर लोगो को खूले में शौच न करने के लिए प्रेरित करते हुए। अपने-अपने शौचालयो का ही प्रयोग करे। यह भी कहे कि जिनके यहॉ शौचालय न हो वे तत्काल निर्माण करवाये। इस ग्राम को 529 शौचालय उपलब्ध कराया जायेगा। प्रत्येक घरों में शौचालय होना अनिवार्य है।

जिलाधिकारी ने कहा कि आदर्श गॉव के आदर्श नागरिक बने। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी रमेश चन्द्र पाण्डेय ने कहा कि अधिकारी का सर्वे जितना अच्छा रहेगा, उतना ही अच्छा कार्य होगा। कैड़ा गॉव ने ठाना है, गॉव को शौच मुक्त कराना है। ग्रामीण आदर्श गॉव के महत्व को समझे खुले में शौच न करे। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने आदर्श ग्राम में जिन विभाग के अधिकारियों ने अपना भौतिक/वित्तीय लक्ष्य शून्य रखा है, वे कारण सहित वस्तु स्थिति से अवगत कराते हुए बेबसाईट पर अपलोड करे। जिलाधिकारी ने सभी विभागों के अधिकारियो का निर्देश दिया है कि कार्य योजना बनाकर बेबसाइट पर अपलोड करे, कब कार्य चालू करेगे, कितनो दिनों में कार्य पूर्ण करेगे। लक्ष्य वित्तीय एवं भौतिक क्या होगा, टाईम-लाईन योजना के नाम से विकास भवन में दो दिन के भीतर प्रत्येक दशा में जमा कर दे अन्यथा कड़ी कार्यवाही की जायेगी। शासन की प्राथमिकता के आधार पर आदर्श ग्राम को समस्त कार्य को अधिकारी समय से पूर्ण कराये। इस कार्य में लापरवाही/शिथिलता/उदाशिनता बरतने वाले अधिकारियों/कर्मचारियों को किसी भी कीमत पर बक्सा नही जायेगा।

रिपोर्ट–पी०एन०शुक्ल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here