जिलाधिकारी ने दी खतौनी के पुनर्निरीक्षण की स्वीकृति

0
144

सोनभद्र ब्यूरो : जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय ने उ. प्र. राजस्व संहिता की धारा-31 की उपधारा-2 एवं उ. प्र. राजस्व संहिता नियमावली के नियम-28 के उप नियम-1 में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए सोनभद्र जिले के तहसील राबर्ट्सगंज के 141, तहसील दुद्धी के 59 तथा तहसील घोरावल के 82 यानी जिले के 282 राजस्व ग्रामों की खतौनी के पुनरीक्षण व खतौनी में अंकित प्रत्येक खातेदार/सह खातेदार के गाटों के अंश का निर्धारण करने के लिए 5 जून, 2017 से खतौनी पुनरीक्षण एवं अंश निर्धारण शुरू करने की स्वीकृति प्रदान कर दी है। जिलाधिकारी प्रमोद कुमार उपाध्याय ने जानकारी देते हुए बताया कि 5 से 15 जून, 2017 तक जिलाधिकारी द्वारा जिले के राजस्व ग्रामों की खतौनी के पुनरीक्षण एवं उसमें दर्ज खातेदारों/सह खातेदारों के अंश निर्धारण हेतु सूचना को प्रकाशित किये जाने का समय-सीमा निर्धारित किया गया है।

इसी प्रकार से 16 जून से 31 जुलाई, 2017 तक खतौनी में दर्ज खातेदार/सह खातेदारों के खातावार एवं गाटा नम्बरवार अंश को प्रारम्भिक रूप से सह खातेदारों एवं ग्राम राजस्व समिति के प्रामर्श से लेखपाल द्वारा आकार-पत्र-ख0पु0-2 में तैयार किया जायेगा। 01 अगस्त से 31 अगस्त, 2017 तक लेखपाल द्वारा खतौनी में सह खातेदारों के गाटा, नम्बरवार प्रस्तावित अंश के उद्धरण को आकार पत्र-ख0पु0-3 में तैयार किया जायेगा व राजस्व निरीक्षक द्वारा सभी खातेदारों/सह खातेदारों को आर0सी0 प्रपत्र-8 में नोटिस जारी कर लेखपाल के माध्यम से तामिल कराया जायेगा। 01 सितम्बर से 30 सितम्बर, 2017 तक खातेदार/ सह खातेदार द्वारा प्रारम्भिक रूप से किये गये अंश के निर्धारण के विरूद्ध आपत्ति/शुद्धीकरण के लिए आकार पत्र-ख0पु0-3 में विवरण अंकित करते हुए यथा आवश्यक अभिलेखों/प्रमाणों सहित सम्बन्धित लेखपाल अथवा राजस्व निरीक्षक अथवा रजिस्टार, कानूनगो को प्राप्त कराया जायेगा।

01 अक्टूबर से 31 अक्टूबर, 2017 तक राजस्व निरीक्षक द्वारा ग्राम राजस्व समिति के परामर्श, स्थानीय जाॅच-पड़ताल एवं पक्षों के मध्य सुलह-समझौते के आधार पर आपत्तियों के निस्तारण पर अंश निर्धारण आदेश पारित किया जायेगा, 01 नवम्बर से 15 नवम्बर तक खातेदार/सह खातेदार की अनिस्तारित आपत्तियों को राजस्व संहिता की धारा-116 के अन्तर्गत उप जिलाधिकारी के निर्णय से अग्रसारित किया जायेगा। जिलाधिकारी ने जिले के तीनों उप जिलाधिकारियों, तहसीलदारों के साथ ही राजस्व कार्मिकों को आदेशित किया है कि वे राजस्व ग्रामों की खतौनी के पुनरीक्षण व खतौनी में अंकित प्रत्येक खातेदार व सह खातेदारों के गाटों के अंश के निर्धारण 5 जून, 2017 से लेकर 15 नवम्बर, 2017 तक निर्गत आदेशानुसार करना सुनिश्चित करें।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here