डीएम ने ली उद्योग संचालकों के साथ सीएसआर की समीक्षा बैठक

उरई/जालौन(ब्यूरो)- जिलाधिकारी नरेन्द्र शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में उद्योग संचालकों के साथ सी0एस0आर0 की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न हुई। जिसमे सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि जनपद में शिक्षा पेयजल वृक्षारोपण आदि से सम्बन्धित कार्यों को इनके द्वारा वार्षिक टर्नओवर के आधार पर तीन प्रतिशत धनराशि व्यय करते हुए कार्य कराये जाये। जिसमे तय हुआ कि हिन्दुस्तान लीवर पी0एच0सी0, सी0एच0सी0 सभी को विधुत पंखे, ए0सी0 से परिपूर्ण कराने का कार्य करेंगे। इसके साथ ही नीलगिरी शिक्षा के लिए हर तहसील में एक स्मार्ट क्लास रूम बनायेगा और उसमे दो अध्यापको की तैनाती करेंगे। यह कार्य 30 जुलाई तक प्रारम्भ करायेंगे।

गोविन्दम् फोर लाइन के पास जहां से शहर के लिए बाई पास निकलता है, वहां मुख्य जगह पर हाई मास्क लाइट तथा शहर की तरफ स्टीट लाइटें लगवायेंगे। पटेल वायर इण्डस्ट्रीज चार आर0ओ0 एक वाटर कूलर लगवायेंगे। इसी तरह पालीवाल फू्रड उद्योग भी कार्य करायेंगे। नीलगिरी द्वारा गोविन्दम् से लेकर फोर लाइन पर 8 किमी तक एक हजार पेड़ लगवायेंगे तथा इनको पानी देने की भी व्यवस्था करेंगे। इस कार्य में यह सभी प्रशासनिक अधिकारियों पत्रकारों से वृक्षारोपण करायेंगे।

उपायुक्त उद्योग को निर्देश दिये कि वह जनपद के सभी उद्योगो के संचालको को सूचीबद्ध कर सूची उपलब्ध करायें। बैठक में उपस्थित उद्योगो के संचालको की सूची तथा उद्योग संचालन में रूचि लेने वाले और कार्य करने वाले व्यक्तियों और कार्य न करने वालों की सूची तैयार करेंगे। यह कार्य शीघ्रता से प्रारम्भ कराये जाने हेतु उपायुक्त उद्योग को निर्देश दिये। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी एस0पी0सिंह, उद्योग प्रतियों में गोविन्द सिंह, नीलगिरी के संचालक हिन्दुस्तान लीवर के प्रतिनिधि पटेल क्वायर इण्डस्ट्रीज के प्रतिनिधि पालीवाल फूड के संचालक उपस्थित रहे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY