डाक्टर बना हैवान, रात भर तड़पता रहा मरीज लेकिन नहीं किया इलाज़

0
64


वाराणसी (ब्यूरो)-
पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी के जिला अस्पताल पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय ट्रामा सेण्टर पाण्डेयपुर वाराणसी मे बीते गत दिन एक अगस्त की रात लगभग दस बजे चोट लगने के कारण रवि शंकर सिंह नामक व्यक्ति जिनका पैर में फैक्चर हुआ था उसका इलाज़ करने से वहां के एक डाक्टर ने साफ़ तौर पर मना कर दिया है | इतना ही नहीं आपको यह भी बता देते है कि मौके पर तैनात डाक्टर प्रवीण कुमार के ऊपर आरोप यह भी है कि उसने अपने सहायक द्वारा बनायी गई पर्ची को भी फाड़ कर फेंक दिया और इलाज करने से साफ़ तौर पर मना कर दिया |

बताया जा रहा है डाक्टर प्रवीण प्रताप ने जिस समय ऐसा किया उस समय मरीज बुरी तरह से दर्द से कराह रहा था और मिन्नतें कर रहा था लेकिन डाक्टर का दिल नहीं पसीजा | इतना ही नहीं पीड़ित सफाई कर्मी के मित्र का आरोप है कि डाक्टर ने उसे धक्का मारकर वहां गिरा दिया और बोला कि इसे लेकर यहाँ से दफा हो जाओ और मेरा दिमाग मत ख़राब करो | बताया जा रहा है कि घटनास्थल पर हुई यह सभी गतिविधियाँ मौके पर कैमरे में कैद है |

वही आपको यह भी बताते चलते है कि जहाँ अस्पताल के डाक्टरों के ऊपर इतने गंभीर आरोप लग रहे है वही दूसरी तरफ अस्पताल के मुख्यचिकित्साधिकारी को इस बाबत कही कुछ पता ही नहीं है | अब पता उनको वास्तविकता में ही नहीं है या फिर सब कुछ जानते हुए भी वह अज्ञानी बने हुए है और महज़ धृतराष्ट्र बनने का नाटक कर रहे है | अगर वास्तव में ऐसा है तो यह न ही अस्पताल प्रशासन के लिए और न ही सम्बंधित डाक्टरों के लिए ही बेहतर होगा |

रिपोर्ट- सन्तोष कुमार सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here