सीएम के फरमान को ताख पर रख, दोपहर से ही नदारद रहे डॉक्टर और अस्पताल स्टाफ

0
52

⁠⁠⁠⁠⁠
हसनगंज/उन्नाव (ब्युरो) CHC हसनगंज पर सप्ताह के अंतिम दिन शनिवार को बायोमेट्रिक मशीन पर डॉक्टर अगूढा दिखाकर घर के लिए रवाना हो गए यहा तक मरीज डॉक्टरों को खोजते रहे वही मरीज पर्चा बनवाने के लिये बाबू को ढूढ़ते रहे 12 बजे दोपहर के समय डॉक्टरों की कुर्सियां खाली नजर आयी |

आज सप्ताह के अंतिम दिन शनिवार को चिकित्सक से लेकर बाबूओं तक बायोमेट्रिक मशीन पर अंगूठा दिखाकर 12 बजे के बाद घर को चलते बने तथा मरीज महिला पुरुष आकर चिकित्सक तो दूर पर्चा बनाने वाले बाबू को भी ढूढ़ते रहे जहा एक तरफ सीएम योगी सरकार के फरमान स्वास्थ सेवाएं सुचारू रूप से करवाने के लिए बायोमेट्रिक मशीन लगवाकर हाजरी लगवाने का काम शुरू किया गया तथा समस्त तैनात CHC पर रुकने का आदेश किया गया फिर भी हसनगंज CHC के डॉक्टरों पर फरमान बेअसर साबित हो रहा है |


अधीक्षक के जाने के बाद अन्य चिकित्सक बारी बारी घर के लिए रवाना हो गये यहा तक बाबू भी अपनी सीट छोड़कर अपने आशियाने मे दुबक गये पर्चा बनवाने के लिए आये मरीज सजीवन नेवलगंज, अर्चना बाजपेई, दिब्या द्विवेदी, आरती मीर खेड़ा मरीजो ने बताया कि दो दिन से फीवर आ रहा था जब आज 12 बजे C H C हसनगंज मे पर्चा बनवाने के लिए लाईन मे खड़े रहे लेकिन कोई भी बाबू नजर नही आया डॉक्टरों के शिथिलता के चलते मजबूर होकर निजी अस्पताल का सहारा लेना पड़ता है जहाँ अधिक रुपये देकर इलाज कराने के लिए मजबूर है |

क्षेत्रीय विधायक ब्रजेश रावत ने 20 मई को C H C का औचक निरक्षण किया था मौके पर आधा दजर्न डॉक्टर नदारद मिले थे जिससे नराज विधायक ने डॉक्टरों के खिलाफ डी एम से लेकर C M O तक कार्य करवाने को पत्र लिखा था उसके बावजूद भी डॉक्टरों का रवैया नही सुधरा देर से आना और जल्दी चले जाना
C H C अधीक्षक नितिन ने बताया कि सभी डॉक्टर उपस्थित थे |

रपोर्ट – राहुल राठौर

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY