एक्टिव रहे SDM, किया अपने क्षेत्र का विधिवत निरीक्षण और दिए आवश्यक निर्देश

0
42

जालौन ब्यूरो- 1. चुनाव आयोग के निर्देश पर चलाए जा रहे नगर निकाय मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्य की हकीकत जानने के लिए नगर में बनाए गए बूथों पर एसडीएम व तहसीलदार ने बूथों पर जाकर पुनरीक्षण कार्य को देखा एवं बीएलओ को कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।

एसडीएम सौजन्य कुमार विकास के साथ तहसीलदार भूपाल सिंह ने नगर निकाय चुनाव को लेकर किए जा रहे पुनरीक्षण कार्य की हकीकत जानने के लिए बूथों का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने बूथों पर बीएलओ को निर्देशित करते हुए कहा कि मतदाता सूची के पुनरीक्षण कार्य में तेजी लाऐं। सूची में नाम जोड़ने के लिए प्रपत्र 6, संशोधन के लिए प्रपत्र 7 एवं नाम काटने के लिए प्रपत्र 8 अवश्य भरकर जमा करें। मतदाता सूची पुनरीक्षण का कार्य पूरी ईमानदारी से करें। सूची के पुनरीक्षण में किसी भी प्रकार की लापरवाही न करें। चुनाव आयोग के इस कार्य में में किसी भी प्रकार की लापरवाही मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

इस दौरान एसडीएम ने बीएलओं द्वारा भराए गए प्रपत्र 6, 7 व 8 की जांच की एवं प्रपत्रों के साथ लगाए गए साक्ष्यों को देखकर संतोष व्यक्त किया।

2. विकास खंड के ग्राम प्रतापपुरा में कराए गए 22 पट्टों के आवंटन में धांधली किए जाने की शिकायत ग्रामीणों ने एसडीएम से की। तो वहीं, आवासीय पट्टों की हकीकत जानने के लिए एसडीएम ने गांव में खुली बैठक में लोगों की शिकायतों को सुना एवं अपना निर्णय सुरक्षित किया।

एसडीएम के निर्णय को लेकर ग्रामीणों में कयासों का दौर जारी है। ग्राम प्रतापपुरा के ग्रामीणों ने एसडीएम सौजन्य कुमार विकास से शिकायत की थी ग्राम प्रधान ने 22 आवासीय पट्टों का लाभ अपात्रों को दे दिया है। जबकि पात्र व्यक्तियों को इन पट्टों से वंचित कर दिया गया। गांव में हुए 22 पट्टों में से 5 पट्टे सामान्य एवं 17 पट्टे दलितों को दिए गए। ग्रामीणों की शिकायत पर एसडीएम ने सोमवार को गांव में खुली बैठक कर एक, एक पट्टा धारक की जांच की एवं ग्रामीणों से जानकारी प्राप्त की। फिलहाल एसडीएम ने अपने निर्णय की घोषणा न कर अपना निर्णय सुरक्षित रखा है। जिसके चलते ग्रामीणों की नजरों एसडीएम के निर्णय पर टिकी हैं कि किन, किन लोगों के पट्टे निरस्त होते हैं और किन्हें पट्टे आवंटित किए जाऐंगे। तो वहीं, उक्त संदर्भ में एसडीएम ने बताया कि उन्होंने सभी पक्षों को सुन लिया है। शीघ्र ही वैधानिक कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

रिपोर्ट- अनुराग श्रीवास्तव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY