जीवन में डर को कभी नजदीक न आने दें

0
1050

आचार्य चाणक्य ने कहा हैं कि डर ब्यक्ति को नपुंशक बना देता हैं, ब्यक्ति के जीवन में कभी भी डर नामक चीज के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए I

chanakya 7

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

9 − one =