28 फरवरी को होंगे दून बार एसोसिएशन के चुनाव

0
114

प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

देहरादून : सोमवार को बार भवन में आमसभा के दौरान मतदाता सूची को लेकर गहराए विवाद की वजह से चुनाव की तिथि पांच दिन आगे बढ़ा दी गई है। अब मतदान 23 की बजाय 28 फरवरी को होगा। बैठक में सोशल मीडिया पर धमकी मिलने के बाद दिए गए चुनाव संचालन समिति के पदाधिकारियों के इस्तीफे को भी नामंजूर कर दिया गया। वहीं, संदेश प्रसारित करने वाले अधिवक्ता से स्पष्टीकरण मांगा गया है। बार एसोसियेशन के विभिन्न पदों के लिए नौ फरवरी को नामांकन वाले दिन ही मतदाता सूची को लेकर विवाद खड़ा हो गया था।

बार काउंसिल ने अपने यहां पंजीकृत 2072 अधिवक्ताओं की सूची भेजते हुए चुनाव कराने को कहा था, जबकि अपने यहां पंजीकृत 2770 अधिवक्ताओं की वोटर लिस्ट पर चुनाव कराना चाह रहा था। हालांकि, दूसरे दिन 10 फरवरी को बुलाई गई आमसभा में सर्वसम्मति से फैसला लिया गया कि बार काउंसिल से भेजी गई मतदाता सूची पर ही चुनाव कराए जाएंगे, लेकिन बार काउंसिल में पंजीकरण से वंचित ऑल इंडिया बार एग्जाम उत्तीर्ण करने वाले अधिवक्ताओं को भी मतदान में शामिल किया जाएगा।

कुछ दिन विवाद शांत रहने के बाद पिछले दो-तीन दिन से इसे लेकर सोशल मीडिया पर संदेश प्रसारित होने लगे। इस बीच शनिवार को चुनाव संचालन समिति के चुनाव अधिकारी एलबी गुरुंग, चितरंजन त्रिवेदी, दीपक अहलूवालिया व भूपेंद्र सिंह ने यह कहते हुए चुनाव अधिकारी के पद से इस्तीफा दे दिया कि उन्हें चुनाव न कराने को लेकर धमकी दी जा रही है। हालांकि, के अध्यक्ष मनमोहन कंडवाल ने उनका इस्तीफा नामंजूर कर दिया था, लेकिन सोमवार को इसे लेकर दूसरी बार आमसभा बुलाई गई।

जिसमें सर्वसम्मति से चुनाव अधिकारियों के इस्तीफे नामंजूर करते हुए चुनाव की तिथि आगे बढ़ा दी गई। अध्यक्ष कंडवाल ने कहा कि पूरे हाउस को चुनाव अधिकारियों पर भरोसा है। चुनाव की प्रक्रिया वह ही पूरी कराएंगे। कहा कि जिनके नाम वोटर लिस्ट में नहीं हैं, वह अब 26 फरवरी तक मताधिकार की अर्हता के बारे में प्रमाण पत्र दे सकेंगे। दो सदस्यीय कमेटी भी गठित की जाएगी, जो मतदाता सूची को अंतिम रूप देगी। हाउस ने चुनाव के संबंध में व्हाट्सएप पर मैसेज भेजने वाले अधिवक्ता रजत दुआ से स्पष्टीकरण भी मांगा है।

सुखलाल व कन्याल होंगे पर्यवेक्षक

बार एसोसियेशन के विभिन्न 11 पदों के लिए मैदान में 36 उम्मीदवार हैं। सुखलाल व नरेंद्र सिंह कन्याल बार एसोसियेशन के पर्यवेक्षक होंगे।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here