दूषित पानी से एक की मौत, आधा दर्जन बच्चे अस्पताल में भर्ती

0
35

चुनार/मीरजापुर(ब्यूरो)- आज मुहल्ला लालदरवाजा निवासी गोविंद 28 वर्ष पुत्र रतन कुमार गुरूवार की रात 8:30 बजे खाना खाकर सोने गया, उसी दौरान उसे दस्त शुरू हो गया और उसकी हालत बिगड़ने लगी परिवार के लोग तत्काल उसे चेचरीमोड स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गये जहाँ भर्ती कर दवा इलाज शुरू हुआ| इस दौरान ही मुहल्ले के एक युवक की और हालत बिगड गयी और परिवार व मुहल्ले के लोग उसे भी अस्पताल लेकर भागे और उसका भी दवा इलाज शुरू हुआ, इसी बीच मुहल्ले के तमाम बच्चों के हालत बिगड़ने लगे और परिजन उन्हें भी तत्काल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर ले गये जहाँ उनका इलाज डाक्टरों ने शुरू किया इलाज के दौरान ही शुक्रवार की सुबह 10बजे गोविंद की मौत हो गई|

मौत की खबर लगते ही मुहल्ले के लोगों ने लालदरवाजा तिराहे पर शव रखकर चक्का जाम कर दिया मुहल्ले के लोगों का कहना है कि दूषित पानी व चिकित्सकीय लापरवाही से मौत हुई है| मुहल्लेवासियों के द्वारा जाम लगाये जाने की खबर लगते ही उपजिलाधिकारी चुनार सुनील कुमार व सी0ओ मुकेश कुमार उत्तम मौके पर पहुंचे लेकिन मुहल्लेवासी जिला के आलाअधिकारियो को बुलाये जाने मृतक परिवार को मुआवजा व कार्यवाही कराने की जिद्द पर अड़े रहे| बहरहाल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर लालदरवाजा निवासी जितेन्द्र कुमार 28 वर्ष पुत्र किशोर  व रोजी 16 वर्ष पुत्री मोहम्मद वकील का इलाज चल रहा है और रोहित 13 वर्ष पुत्र बुधराम को डिस्चार्ज करने के साथ ही हालत गम्भीर होने के कारण चिकित्सक ने आकाश 7 वर्ष पुत्र राजू को जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चुनार पर संध्या साहनी 12 वर्ष का इलाज चल रहा है| सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक डॉ. अजय कुमार से पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि दूषित पानी प्रथम दृष्टया बिमारी का कारण है| जिले से जांच टीम आयी है जो रोकथाम के साथ विभिन्न तरीकों से जांच करने के लिए पानी का सैपल लिया है| टीम द्वारा जांच की प्रक्रिया पूरी हो जाने पर ही सही स्थिति स्पष्ट होगी|

रिपोर्ट- अंशू मिश्रा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY