डॉ. जितेन्द्र सिंह ने 7वें परमाणु ऊर्जा सम्मेलन का उद्धाटन किया |

0
131

The Minister of State for Development of North Eastern Region (I/C), Prime Minister’s Office, Personnel, Public Grievances & Pensions, Department of Atomic Energy, Department of Space, Dr. Jitendra Singh addressing at the inauguration of the 7th Nuclear Energy Conclave, in New Delhi on November 03, 2015. 	The Chairman, Atomic Energy Commission and Secretary to Department of Atomic Energy, Dr. Sekhar Basu is also seen.

पूर्वोत्तर विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), प्रधान मंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री, कार्मिक, लोक शिकायक, पेंशन, परमाणु ऊर्जा एवं अंतरिक्ष राज्य मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह ने कहा कि भारत का परमाणु कार्यक्रम कई देशों से आगे है और ‘मेक इन इंडिया’ पहल का सच्चा परिचायक है। वे आज यहां सातवें परमाणु ऊर्जा सम्मेलन के उद्धाटन सत्र में बोल रहे थे। सम्मेलन का आयोजन ‘भारत ऊर्जा मंच’ ने किया था और इसका विषय ‘भारत में परमाणु बिजली की क्षमताओं का तेज विकास करने के लिए परिस्थितियों का सृजन’ था।

डॉ. जितेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी स्वाभाविक रूप से वैज्ञानिक दृष्टिकोण रखते हैं और उनके नेतृत्व में पिछले 18 महीनों के दौरान होमी भाभा के सपनों को पूरा करने के लिए कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा कि भारत आज परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में विश्व में अग्रिम देश बन गया है।

उद्धाटन सत्र में परमाणु ऊर्जा आयोग के अध्यक्ष डॉ. शेखर बसु, परमाणु ऊर्जा आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉ. अनिल काकोदकर और भारत ऊर्जा मंच के अध्यक्ष श्री पी एस बामी ने भी अपने विचार व्यक्त किए।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

eighteen − 6 =