डॉ राजीव सिंह और आरोग्य भारतीय के सौजन्य से पिछड़े गावों की जानी समस्या

0
163

PHOTO02
डलमऊ-रायबरेली : डा.राजीव सिंह जी और आरोग्य भारती के सौजन्य से हमें जनपद रायबरेली के विकास खंड लालगंज के महाखेड़ा ग्राम सभा में जाने का अवसर प्राप्त हुआ। महाखेड़ा (राजस्व ) ग्राम मे पूरे ओरी भी (राजस्व ) ग्राम है, जो 2016 – 2017 मे लोहिया ग्राम घोषित हुआ है । ये दोनों गांव राजस्व ग्राम में आते है लेकिन जब डॉ राजीव सिंह व् आरोग्य भारती ने ग्रामीण लोगों से मुलाकात की और उनके साथ बैठकर भारत सरकार की योजनाओं पर चर्चा की, और ग्राम पंचायत की समस्याओं पर भी चर्चा की तो निम्नलिखित समस्याएँ मुख्य रूप से देखने और सुनने को मिली जो निम्नवत हैं, पूरे ओरी ग्राम लोहिया होने से वहाँ की स्थिति मे सुधारों का कार्य शुरू हो गया है, परन्तु महाखेड़ा ग्राम जिसमें अभी भी 90% लोगों के पास शौचालय नहीं है और लोगों को खुले में शौच के लिए जाना पडता है। इस ग्राम सभा में पंचायत भवन की इमारत नही होने से ग्रामीण स्तर की बैठके एवम् कागजी कार्रवाई निजी मकान पर की जाती है। इस ग्राम सभा में बारात घर की कोई व्यवस्था नही है, जिससे ग्रामीण आंचल के लोगों को बड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इस ग्राम सभा में पेयजल व्यवस्था बहुत ही खराब स्थिति में है, यहाँ पर 250 परिवारो के बीच में मात्र चार सरकारी नल सक्रिय रूप से चलते मिले, और चार नलों की रिबोर पिछले दो तीन वर्षो से ठन्डे बस्ते में पड़ी है, जिससे लोगो को पानी की समस्या से जूझना पड रहा है।

इस ग्राम सभा में सिंचाई व्यवस्था भी सिर्फ व्यक्तिगत नलकूपों द्वारा करनी पड़ती है, क्योंकि यहाँ सरकारी एक भी नलकूप की व्यवस्था नही है, जिससे अधिकांश खेती पानी के अभाव से खराब हो जाती है। इस ग्राम सभा में प्राथमिक उपचार की कोई व्यवस्था नही है, जिससे ग्रामीण आंचल के लोगों को स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों के निवारण हेतु लालगंज शहर के अस्पतालों की राह पकड़नी पड़ती है, जो ग्रामीण आंचल से लगभग 6 किलोमीटर दूर पड़ता है। इस ग्राम सभा में विद्युत आपूर्ति भी ठीक ढंग से नही हो रही है, जिससे घरेलू उपकरण काम नही कर रहे हैं। इस ग्राम सभा में एक सरकारी इमारत बनाई गई थी, परन्तु इमारत किस मकसद से बनीं, यह आज भी एक रहस्य बना हुआ है, और अब इमारत भी धीरे – धीरे खंडहर में तब्दील होने लगी है। इस ग्राम सभा में 90% दलित वर्ग के लोग हैं । यहाँ पर साक्षरता की कमी बखूबी देखने को मिली, यहाँ बिजली की समस्या, शौचालय की समस्या, पेयजल की समस्या, तथा प्राथमिक उपचार की समस्या मुख्य रूप से देखने को मिली। जिसको डॉ राजीव सिंह जी ने दूर करने की ठान ली है । । यही नही डॉ राजीव सिंह जी व् आरोग्य भारतीय के सौजन्य से अत्यंत पिछड़े गावो का दौरा करके इन गांवों को पिछड़ेपन से दूर करेगे। ग्रामीण स्तर की ऐसी समस्याएँ, जिससे ग्रामीण क्षेत्रो का विकास बाधित हो रहा है, उन सभी समस्याओ को श्री डा.राजीव सिंह जी ने दूर करने का बीड़ा उठाया है।

रिपोर्ट – एस. बी. मौर्या

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY